झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

जाने क्यों आदित्यपुर में बिल्डर ने खुद कराई थी फायरिंग

कुणाल सारंगी

जमशेदपुर: आदित्यपुर -कांड्रा मार्ग स्थित मंगलम होम्स के सामने बिल्डर संजय मोहंती ने 18 जुलाई की शाम अपनी कार पर खुद ही फायरिंग करवाई थी। बकायदा इसके लिए शूटरों को दो लाख रुपये देने का वादा भी किया था ।

एडवांस राशि का भी भुगतान कर दिया गया था। विरोधियों को फांसने के लिए संजय प्रधान और अशोक प्रधान पर फायरिंग करने का आरोप लगाया था, लेकिन पुलिस की जांच और शूटरों की गिरफ्तारी से सच्चाई सामने आ गई। एक पुलिस अधिकाटी के अनुसार फिलहाल बिल्‍डर, उसके करीबी गोपी, चालक संतोष चौहान, प्रेडरिक, देबू औट वाहन पर फायरिंग करने वाले श्ंकट कुंवर, राजू खिलाड़ी और एक अन्य आदित्यपुर पुलिस की हिरासत में है। सभी खरसावां के रहने वाले हैं। इसमें शंकर कुंवर हिस्ट्रीशीटर है जबकि टाजू खिलाड़ी की बाइक का प्रयोग फायरिंग में किया गया था। जिस पिस्‍तौल से फायरिंग हुई उसे भी बरामद कर लिया गया है । हालांकि पुलिस मामले में कुछ कहने से बच रही है।

फायरिंग कराने के पीछे से फंसाने की थी योजना

संजय मोहंती का सरायकेला के एक पूर्व विधायक से नजदीकी रही है और भाजपा नेता गणेश महाली से पुरानी अदावत है। चुनाव में उसने पूर्व विधायक को सहयोग किया था। उस समय में संजय मोहती ने नारायण गांव में अपनी जमीन की चारदीवारी गिराने का आरोप गणोश महाली पर लगाया था। हालांकि जांच में मामला गलत सामने आया। आदित्यपुर में हुई फायरिंग की घटना में पुलिस यह पता लगा रही है कि इस मामले में कहीं फसाने का प्रयास तो नहीं था।