झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

भारतीय जन मोर्चा संयोजक ने भाजपा नेता पर कसा तंज, कहा- लाश पर राजनीति करना बंद करें अभय सिंह

कुणाल सारंगी

अधिवक्ता प्रकाश यादव हत्याकांड मामले को लेकर भाजपा नेता अभय सिंह और भाजमो संयोजक राम नारायण शर्मा के बीच विवाद बढ़ता ही जा रहा है. राम नारायण शर्मा ने अभय सिंह पर तंज कसते हुए कहा
कि वे लाशों की राजनीति करना बंद करें.
जमशेदपुरः अधिवक्ता सह भाजपा नेता प्रकाश यादव के हत्याकांड मामले को लेकर भाजपा नेता अभय सिंह और भारतीय जन मोर्चा के संयोजक राम नारायण शर्मा के बीच विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. दिन-प्रतिदिन आरोप-प्रत्यारोप का दौर बढ़ता ही जा रहा है. दरअसल, भाजपा नेता अभय सिंह ने राम नारायण शर्मा को 48 घंटे में अपनी बात वापस नहीं लेने पर 10 करोड़ का मानहानि का मुकदमा दर्ज करने की बात कही थी. राम नारायण शर्मा ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि वह किसी भी सूरत में अपनी बातों से नहीं हटेंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि अभय सिंह 10 करोड़ या 50
करोड़ का मानहानि का मुकदमा दर्ज करा दें, लेकिन भारतीय जन मोर्चा पीछे नहीं होने वाली है.
भाजपा नेता अभय सिंह पर तंज कसते हुए भारतीय जन मोर्चा के संयोजक राम नारायण शर्मा ने कहा कि अभय सिंह की पुश्तैनी और वर्तमान 25 सालों के सारे कारनामों की सूची और गोरखधंधे को भारतीय जन मोर्चा परत दर परत खोलेगी. राम नारायण शर्मा ने भाजपा नेता अभय सिंह पर बरसते हुए कहा कि वे लाशों की राजनीति करना बंद करें.
भारतीय जन मोर्चा के संयोजक ने कहा कि प्रकाश यादव की हत्या पर पर्दे के पीछे से जो अभय सिंह से राजनीति करवा रहा है, यह सारी बात जनता को मालूम है कि किसके इशारे पर वह इस तरह की बयानबाजी कर रहे हैं. पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास का तोता बनकर जिस तरह अभय सिंह मिठू मिठू कर रहे हैं, इसलिए क्योंकि आप अभी-अभी भाजपा में जुड़े हैं.
राम नारायण शर्मा ने कहा कि अगर भाजपा नेता अभय सिंह चाहते तो प्रकाश यादव की जान बच सकती थी. उन्होंने कहा कि माफी मुझे नहीं अभय सिंह को प्रकाश यादव के परिजनों के साथ-साथ जनता से सार्वजनिक रूप से मांगनी चाहिए. उन्होंने साफ तौर पर कहा कि इस तरह का उल्लू-जुलूल बयान आपके बचपना हट को दर्शाता है.