झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रखंड अध्यक्ष ने बीडीओ को धमकाया, पुत्र सहित भेजा गया जेल

कुणाल सारंगी

लोहरदगा के सेन्हा प्रखंड के बीडीओ के साथ झारखंड मुक्ति मोर्चा अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रखंड अध्यक्ष ने अभद्र व्यवहार किया और धमकाया. इस मामले में प्राथमिकी दर्ज होने के बाद पुलिस ने आरोपी पिता-पुत्र को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है लोहरदगा: वर्तमान सरकार में ठेकेदारी को लेकर राजनीतिक पैरवी और धौंस की बातें तो खूब सामने आ रही है. अब राजनीतिक दल के प्रतिनिधि द्वारा प्रखंड विकास पदाधिकारी के साथ अभद्र व्यवहार किए जाने का मामला सामने आया है. इस मामले को लेकर प्रखंड विकास पदाधिकारी ने प्राथमिकी दर्ज कराई है. जिसके बाद राजनीतिक दल के प्रतिनिधि और उसके पुत्र को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.
जिले के सेन्हा प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी सच्चिदानंद महतो जागरूकता अभियान को लेकर क्षेत्र भ्रमण पर निकले हुए थे. इस दौरान प्रखंड विकास पदाधिकारी अलग-अलग क्षेत्रों में लोगों को मास्क पहन कर घर से बाहर निकलने और अनावश्यक रूप से घर से बाहर नहीं निकलने को लेकर जागरूक कर रहे थे. तभी सेन्हा थाना क्षेत्र के कल्हेपाट चौक के पास झारखंड मुक्ति मोर्चा अल्पसंख्यक मोर्चा के सेन्हा प्रखंड अध्यक्ष जहूर अंसारी और जहूर के पुत्र रिजवान अंसारी सड़क पर घूमते मिले प्रखंड विकास पदाधिकारी ने दोनों को समझाया कि बिना वजह घर से बाहर ना निकलें. इसी बात को लेकर जेएमएम अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रखंड अध्यक्ष और उनका पुत्र प्रखंड विकास पदाधिकारी सच्चिदानंद महतो से उलझ पड़े. यहां पर कुछ लोगों के समझाने के बाद मामला शांत हुआ. इसके बाद जब प्रखंड विकास पदाधिकारी अपने कार्यालय चले गए. कुछ समय बाद प्रखंड विकास पदाधिकारी कार्यालय से बाहर निकल रहे थे तो फिर दोनों पिता-पुत्र वहां पर पहुंच गए. दोनों ने बीडीओ के साथ फिर से अभद्र व्यवहार किया. तंग आकर प्रखंड विकास पदाधिकारी ने थाना पहुंचकर दोनों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करा दी. पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.