झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

सिंह मेंशन और रघुकुल एक बार फिर से आमने-सामने, दोनों के समर्थकों के बीच हिंसक झड़प

कुणाल सारंगी

धनबाद जिले में सिंह मेंशन और रघुकुल एक बार फिर से आमने-सामने आए दोनों पक्षों के समर्थकों के बीच हिंसक झड़प हुई है. जहां रघुकुल समर्थकों की तरफ से मेंशन समर्थक विमल सिंह और प्रकाश महतो को लाठी-डंडों से पीटकर गंभीर रूप से घायल दिया गया.

धनबाद: सिंह मेंशन और रघुकुल के बीच पुरानी दुश्मनी चल रही है. लगातार कोयलांचल के विभिन्न इलाकों में दोनों के समर्थकों के बीच हिंसक झड़प की सूचना मिलती रहती है. दोनों के समर्थक एक दूसरे के खिलाफ भीड़ते रहते हैं.

दोनों के समर्थक के बीच भीड़त
शनिवार को सिंदरी थाना से लगभग दो सौ मीटर की दूरी पर रोड़ाबांध स्थित चाय की दुकान के पास फिर से एक बार भीडंत हुई. जहां सिंह मेंशन समर्थक जनता मजदूर संघ (कुंती गुट) के नेता गौरव वक्ष उर्फ लक्की सिंह और रघुकुल समर्थक जनता मजदूर संघ (बच्चा गुट) के नेता वेद प्रकाश ओझा के समर्थकों के बीच हिंसक झड़प के बाद स्थिति तनावपूर्ण हो गई.
स्थानीय लोगों की माने तो घटना की शुरुआत झड़प से लगभग एक घंटा पूर्व कांड्रा कोल बोर्ड कॉलोनी स्थित आवास में तालाबंदी को लेकर कहा सुनी से हुई. जहां रोड़ाबांध स्थित एक चाय की दुकान पर मेंशन समर्थकों की तरफ से रघुकुल समर्थकों पर छींटाकशी के बाद हिंसक झड़प में तब्दील हो गया, जिसमें रघुकुल समर्थकों की तरफ से मेंशन समर्थक विमल सिंह और प्रकाश महतो को लाठी-डंडों से पीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया गया.
घटना की जानकारी पाते ही छह से ज्यादा की संख्या में मेंशन समर्थक लाठी-डंडे से लैस हो रोड़ाबांध की ओर निकल पड़े, जिसकी सूचना सिंदरी थाना प्रभारी को मिली और सिंदरी थाना प्रभारी दलबल सहित मौके पर पहुंचे और रोहड़ाबांध स्थित जनता मजदूर संघ ( बच्चा गुट) कार्यालय को बंद कराते हुए मामले को शांत करवाया.
लक्की सिंह एवं वेद प्रकाश ओझा ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए मेंशन समर्थक गौरव वक्ष उर्फ लक्की सिंह ने कहा जो भी घटना घटी है, उसकी उम्मीद नहीं थी और ऐसा नहीं होना चाहिए था. वहीं रघुकुल समर्थक वेद प्रकाश ओझा ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. साथ ही कहा कि कार्यकर्ता अंशु सिंह के कांड्रा आवास में तालाबंदी और उसके बाद रोड़ाबांध चाय की दुकान पर मेंशन समर्थकों की तरफ से छींटाकशी के कारण इस तरह की घटना घटित हुई है
वहीं, इस मामले को लेकर सिंदरी थाना प्रभारी राज कपूर ने बताया कि फिलहाल स्थिति सामान्य है और दोनों पक्षों की तरफ से लिखित शिकायत दी गई है. जांच के उपरांत जो भी उचित कार्रवाई है वह की जाएगी.