झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

चकधरपुर और बंदगांव में वज्रपात से दो लोगों की मौत, पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया शव

कुणाल सारंगी

चाईबासा के चकधरपुर और बंदगांव में सोमवार को वज्रपात से दो लोगों की मौत हो गई. दोनों शवों का पोस्टमार्टम नहीं कराया जा सका है. मंगलवार को दोनों शवों का पोस्टमार्टम किया जाएगा और शव को परिजनों के हवाले किया जाएगा
चाईबासा: चकधरपुर और बंदगांव में सोमवार को वज्रपात से दो लोगों की मौत हो गयी. पहली घटना बंदगांव प्रखंड के जोनुवा गांव के समीप की है, जहां बाराकुंडी गांव निवासी 30 वर्षीय व्यक्ति मानसिंह दिग्गी खेत में धान रोपनी के लिए खेत मे हल चला रहा था. इसी दौरान बारिश शुरू हो गई और बिजली चमकने लगी. बिजली चमकने के दौरान मानसिंह अपने घर लौट रहा था. इसी दौरान रास्ते में वह वज्रपात के चपेट में आ गया, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई. घटनास्थल नक्सल प्रभावित क्षेत्र होने के कारण पुलिस नहीं पहुंच पाई हैं. मंगलवार को मृतक का पोस्टमार्टम कराया जाएगा.
दूसरी घटना चक्रधरपुर के हथिया गांव की है, जहां वज्रपात से एक 18 वर्षीय युवती की मौत हो गयी. युवती हथिया गांव की निवासी है. जिसका नाम प्रिया सुंडी है. युवती शाम को गांव के नाले में नहाने गई थी. इस दौरान वह वज्रपात के चपेट में आकर बेहोश हो गयी. आनन-फानन में परिजनों ने युवती को चक्रधरपुर अनुमंडल अस्पताल लाया, जहां डॉक्टर ने युवती को मृत घोषित कर दिया. रात होने के कारण युवती का पोस्टमार्टम नहीं हो सका. मंगलवार की सुबह पोस्टमार्टम कर युवती के शव को परिजनों के हवाले किया जाएगा.