झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

उग्रवादी संगठन पीएलएफआई के एक सदस्य की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

कुणाल सारंगी

गुमला में उग्रवादी संगठन पीएलएफआई के एक सदस्य अजय गोप की गोली मारकर हत्या कर दी गई. घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और मामले की जांच शुरू कर दी.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, अजय गोप पूर्व में जेल भी चुका था. इसके साथ ही अभी उग्रवादी संगठन पीएलएफआई का सक्रिय सदस्य भी था. अजय गोप की हत्या के बाद इलाके में वर्चस्व की लड़ाई को लेकर खूनी संघर्ष होने की आशंका भी जताई जा रही है. मृतक अजय गोप के पिता ने बताया कि उसके बेटे की उग्रवादी संगठन में शामिल होने की जानकारी मिली थी, लेकिन फिलहाल वह बालू के कारोबार से जुड़ा था.
इस मामले में पुलिस सब इंस्पेक्टर सुखराम का कहना है कि मामले की जानकारी मिलने के बाद घटनास्थल पर पहुंचे, जहां अजय गोप नाम के एक युवक का शव बरामद हुआ है, जिसकी गोली मारकर और पत्थर से कूचकर हत्या की गई है. शव देखने से ऐसा प्रतीत होता है कि हत्यारों ने हत्या कहीं और की है और सड़क दुर्घटना का रूप देने के लिए यहां पर शव फेंका है. उन्होंने कहा कि मृतक अजय गोप के क्रिमिनल हिस्ट्री के बारे में जांच की जा रही है.