झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

कोरोना संक्रमितों के लिए प्रबंधन टीम की व्यवस्था, डीसी ने कहा- राजनीति करने वालों पर होगी कार्रवाई

कुणाल सारंगी

सरायकेला जिले में मंगलवार को उपायुक्त ए दोड्डे ने समाहरणालय सभागार में कोरोना संक्रमण रोकथाम पर चर्चा करने के लिए बैठक का आयोजन किया. जहां डीसी ने कहा कि हर प्रखंड स्तर पर कोरोना

पॉजिटिव केस मैनेजमेंट टीम व डिस्चार्ज मैनेजमेंट टीम होने चाहिए. वहीं कोरोना काल में राजनीति करने वालों पर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है.

सरायकेला: जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या में हो रही तेजी को देखते हुए मंगलवार को उपायुक्त ए दोड्डे की तरफ से समाहरणालय सभागार में बैठक का आयोजन किया गया. जहां बैठक में विभिन्न जिलास्तरीय पदाधिकारी, प्रखंडस्तरीय पदाधिकारियों की मौजूदगी में कई दिशानिर्देश दिए गए.
उपायुक्त ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि वे अपने-अपने प्रखंडों में 02-03 मैनेजमेंट टीम गठित करे, जिनकी जिम्मेदारी कोरोना संक्रमितों व उनसे संपर्क में आए लोगों को होम क्वॉरेंटीन/आईसोलेट करने की होगी. साथ ही उन्हें हर सुविधा मुहैया कराने की भी जिम्मेदारी उस टीम की होगी.
उपायुक्त ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी को निर्देश दिया कि वे प्रत्येक कंटेनमेंट जोन्स पर अपनी नजर रखे. कंटेनमेंट जोन में रह रहे व्यक्तियों को खाने-पीने की दिक्कत न हो, इसका भी ध्यान रखे. साथ ही समय-समय पर वे स्वयं उन कंटेनमेंट जोन की विजिट करें. इस दौरान पुलिस अधीक्षक मो. आर्शी ने बताया कि प्रत्येक कंटेनमेंट जोन पर 2 पुलिस बल की तैनाती की जाएगी, जो क्षेत्र में हो रही गतिविधियों पर अपनी नजर रखेगी.
उपायुक्त ने बताया कि इस कोरोना काल में सबका ध्यान अभी कोरोना पर ही होनी चाहिए. ऐसी महामारी की स्थिति में अगर कोई हस्तक्षेप करता है, तो उनपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी. उक्त बैठक में उपायुक्त ने सभी पदाधिकारियों को कोरोना से बचकर रहने के लिए सचेत करते हुए कहा कि वे कम से कम लोगों से मिलें और खुद का और परिवार का भी ख्याल रखें. उपायुक्त ने कहा कि जिले में तेजी से कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है, जिसकी चपेट में पुलिस प्रशासन भी है. यह बहुत ही जरूरी है कि सभी लोग कोरोना वैक्सीन आने तक अपने आप में ही सतर्क रहें.