झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

डिप्टी मेयर ने डीजीपी को लिखा पत्र, भाजपा कार्यकर्ताओं की सुरक्षा की मांग

कुणाल सारंगी

जमशेदपुर जिले में भाजपा नेता सह अधिवक्ता के निर्मम हत्या के विरोध में भाजपाई गोलबंद हो रहे है. इसी के तहत बुधवार को आदित्यपुर नगर निगम के डिप्टी मेयर ने पत्र के माध्यम से डीजीपी के समक्ष भाजपा कार्यकर्ताओं के सुरक्षा की मांग उठाई है.

जमशेदपुर: जिले के बिरसा नगर में अधिवक्ता और भाजपा कार्यकर्ता प्रकाश यादव के भू-माफियाओं की ओर से निर्मम हत्या किए जाने को लेकर अब पूरे कोल्हान क्षेत्र के भाजपाइयों में उबाल देखा जा रहा है. वहीं इस घटना को लेकर भाजपा कार्यकर्ता गोलबंद हो रहे हैं. इसी के तहत मौजूदा सरकार के खिलाफ भाजपाइयों में काफी आक्रोश देखा जा रहा है.
भाजपा कार्यकर्ता और अधिवक्ता की हत्या के बाद सरायकेला जिले के आदित्यपुर नगर निगम के डिप्टी मेयर और भाजपा नेता अमित सिंह ने घटना के प्रति संवेदना जताते हुए हत्याकांड में शामिल दोषियों के अविलंब गिरफ्तारी के साथ कड़ी कार्रवाई की मांग की है. उन्होंने कहा है कि राज्य में लगातार गिर रही विधि-व्यवस्था का नतीजा है कि आए दिन भाजपा कार्यकर्ता और नेताओं को टारगेट किया जा रहा है और निर्मम तरीके से उनकी हत्या की जा रही है.
भाजपा नेता और नगर निगम के डिप्टी मेयर अमित सिंह ने झारखंड पुलिस के डीजीपी को पत्र के माध्यम से भाजपा कार्यकर्ताओं समेत अपनी जानमाल सुरक्षा की गुहार लगाई है. डिप्टी मेयर ने पत्र के माध्यम से डीजीपी को बताया है कि वह स्वयं कई मामलों में मुख्य गवाह बने हुए हैं. बावजूद इसके सरकार के आदेश पर सरकारी अंगरक्षक को हटा लिया गया है. इन्होंने कहा कि जब राज्य के मुख्यमंत्री को ही जान से मारने की धमकियां दी जा रही हैं, ऐसे में आम आदमी की सुरक्षा इस राज्य में अब भगवान भरोसे ही है.