झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

वाहन जांच के दौरान सोलह लाख का गांजा बरामद, तस्कर फरार

Ambuj Kumar Kunal Sarangi width Anshar Khan ADJ Kamlesh Jitendra Rais Rozvi Rishi Mishra Rina Gupta

चक्रधरपुर पुलिस को भारी मात्रा में गांजा बरामद करने में सफलता मिली है. इस दौरान तस्कर अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे.
चाईबासा: शहर के चक्रधरपुर पुलिस को भारी मात्रा में गांजा बरामद करने में सफलता मिली है. पुलिस ने सोमवार की देर रात को अपराध नियंत्रण के लिए वाहन जांच के दौरान एक इनोवा कार से 192 किलो गांजा बरामद किया. इस दौरान तस्कर अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे.
सोमवार देर रात पवन चौक पर चक्रधरपुर पुलिस ने वाहन जांच के दौरान एक सफेद रंग की ईनोवा कार सोनुआ की तरफ से आ रही थी. लेकिन पवन चौक पर पुलिस को देख कर तस्कर अपनी कार का लाइट ऑफ कर रुक गए. इस दौरान वाहन जांच में लगी पुलिस कार की तरफ बढ़ने लगी. पुलिस को कार की तरफ आते देख तस्कर वाहन छोड़कर अंधेरे का फायदा उठाते हुए फरार हो गए.
पुलिस अधिकारी के वाहन का मुआयना करने पर जानकारी हुई कि उक्त कार में दो अलग-अलग राज्यों के नंबर प्लेट लगे हुए हैं. जिसके बाद वाहन की जांच करने पर कार की डिक्की और बीच वाले सीट के नीचे दो- दो किलो के 96 पैकेट रखे गए थे. जांच करने पर जानकारी मिली की उक्त पैकेटों में गांजा है. जिसे तस्करों ने सेलो टेप से बांधकर रखा था.
जब्त इनोवा कार से एक नंबर JH-05 BG-8511 झारखंड के जमशेदपुर के संजीव रंजन मिश्रा के नाम पर रजिस्ट्रेशन जो एक टाटा बस का है. वहीं, दूसरा नंबर OD-02U-2481 ओडिशा के कांदुरी चरण साहु के नाम पर है. जब्त कार में गांजे के अलावा एक बैग और एक मोबाइल फोन बरामद हुआ है. इस मोबाइल फोन से तस्करों के कई राज खुल सकते है, फिलहाल जब्ती सूची बनाई जा रही है. जिसके बाद अज्ञात लोगों के खिलाफ और वाहन मालिक के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया है. जब्त गांजे और सामानों को न्यायालय के सामने पेश किया जाएगा.
बरामद अवैध गांजे के लिए चक्रधरपुर थाना कांड संख्या 81/2020धारा 367,68,71,420, और NPDS act 1985, 20/27 में तीन अभियुक्त के खिलाफ मामला दर्ज किया गया.
थाना प्रभारी प्रवीण कुमार, एसआई प्रभात रंजन, एसआई मंजेश कुमार, उपेंद्र कुमार, यशराज सिंह, सिपाही जोसेफ मिंज, लाल मोहन रविदास, रमेश महतो शामिल थे.

About Post Author