झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

उपायुक्त ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी/प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के साथ की वीडियो कॉन्फ्रेंसिग, रैपिड टेस्टिंग किट के उपयोग हेतु दिए आवश्यक निर्देश

कुणाल सारंगी

पूर्वी सिंहभूम जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामले को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा हर स्तर पर इसके रोकथाम के प्रयास किए जा रहे हैं वहीं ज्यादा से ज्यादा लोगों की कोविड-19 जांच सुनिश्चित की जा रही है । इसी क्रम में आज उपायुक्त सूरज कुमार द्वारा सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर रैपिड टेस्टिंग किट के उपयोग हेतु आवश्यक दिशा-निदेश दिया गया।

उपायुक्त सूरज कुमार ने बताया कि 18 अगस्त को व्यापक अभियान चलाते हुए जिला प्रशासन द्वारा जांच गति में तेजी लाने के उद्देश्य से ज्यादा से ज्यादा लोगों का रैपिड टेस्ट कराया जाएगा। सभी प्रखंडों में भी व्यापक स्तर पर जांच सुनिश्चित करने के उद्देश्य से रैपिड एंटिजन टेस्ट किट उपलब्ध कराने की प्रक्रिया जारी है। उपायुक्त ने कहा कि आइसोलेशन सेंटर में रह रहे लोगों का कोविड-19 जांच ससमय सुनिश्चित करायें एवं डाटा संधारित करें। कंटेन्मेंट जोन में बांस का घेरा बनाते हुए पोस्टर चिपकाने का निदेश दिया गया। साथ ही कंटेन्मेंट जोन में सभी नियमों का पालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया है। उपायुक्त द्वारा संबंधित पदाधिकारी को प्रतिदिन का Discharge Summary बनाने का निर्देश दिया गया ताकि समय रहते हॉस्पिटल/कोविड केयर सेंटर/आइसोलेशन सेंटर में बेड खाली कराते हुए आवश्यकतानुसार बेड का उपयोग किया जा सके। इसके अलावा कोरोना संक्रमितों के क्लोज कांटेक्ट में आए लोगों की पहचान हेतु सघन कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग करते रहने पर बल दिया गया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में समाहरणालय सभागार से वरीय पुलिस अधीक्षक एम तमिल वणन, अपर उपायुक्त सौरव कुमार सिन्हा, सिविल सर्जन डॉ. आर एन झा, अंचलाधिकारी जमशेदपुर सदर अनुराग तिवारी, कार्यपालक दंडाधिकारी सविता टोपनो तथा अन्य पदाधिकारी एवं चिकित्सक शामिल हुए।