झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

थाली-कटोरा के साथ ‘अटल स्मृति वेंडर मार्केट’ के दुकानदारों का प्रदर्शन

रांची के अटल स्मृति वेंडर मार्केट के दुकानदारों ने थाली कटोरा के साथ सांकेतिक रूप से धरना दिया. दुकानदारों ने सरकार से वेंडर मार्केट खोलने की अपील की है. जिला प्रशासन के प्रति विरोध जाहिर करते हुए उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांगें पूरी नहीं होती है, तो वे अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठ जाएंगे.

रांचीः अटल स्मृति वेंडर मार्केट के दुकानदारों ने सोमवार को थाली कटोरा के साथ सांकेतिक रूप से धरना दिया और सरकार से वेंडर मार्केट खोलने का आग्रह करते हुए विरोध जाहिर किया. वेंडर मार्केट के दुकानदारों ने सरकार और प्रशासन के सामने कई सवाल भी खड़े किए हैं.
अटल स्मृति वेंडर मार्केट के दुकानदारों ने मार्केट परिसर में ‘सरकार पूंजीपति को खिला रहा है, हम सब वेंडर को भूखा सुला रही है’, ‘हम कहां से खाएं, सरकार बताएं’ जैसे स्लोगन लिखे तख्ते के साथ थाली कटोरा लेकर विरोध प्रदर्शन किया है. कोविड-19 गाइडलाइन के तहत सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करते हुए मार्केट के दुकानदारों ने सरकार और जिला प्रशासन के प्रति विरोध जाहिर किया और चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांगें पूरी नहीं होती है तो वह अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठ जाएंगे.
वेंडर मार्केट के नागेंद्र पांडे ने बताया कि सरकार और जिला प्रशासन के पदाधिकारियों से लगातार दुकानदारों की ओर से मार्केट खोलने का आग्रह किया गया है, लेकिन सिर्फ आश्वासन मिला है और कोई पहल नहीं की गयी है. इस लिए मजबूरन दुकानदारों को थाली कटोरा के साथ मार्केट परिसर में बैठना पड़ा है. उन्होंने कहा कि अगर उनकी मांगें पूरी नहीं होती है तो वेंडर मार्केट के 400 दुकानदार अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठने को मजबूर हो जाएंगे. बता दें कि कोविड-19 की वजह से लगे लॉकडाउन के बाद पिछले 5 महीने से अटल स्मृति वेंडर मार्केट बंद है. वेंडर मार्केट में मेन रोड के 400 फुटपाथ दुकानदारों को दुकानें आवंटित की गई हैं, जहां वह दुकान लगाकर अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं, लेकिन वेंडर मार्केट के बंद होने की वजह से दुकानदार और उनका परिवार दाने-दाने को मोहताज है. इसके लिए लगातार दुकानदार मार्केट खोलने का आग्रह कर रहे हैं.