झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

स्वच्छताकर्मियों के हड़ताल पर जाने से सफाई व्यवस्था ठप्प, न्यूनतम मजदूरी की कर रहे मांग

रामगढ़ नगर परिषद क्षेत्र के सभी स्वच्छता कर्मचारी तीन सूत्री मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं. इससे नगर परिषद के बतीस वार्ड में सफाई व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है. अनुमंडल कार्यालय परिसर के बाहर कर्मचारियों ने जल्द मांगों को पूरा करने की आवाज उठाई.

रामगढ़ः जिले के अनुमंडल कार्यालय परिसर के बाहर सभी स्वच्छता कर्मचारी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए हड़ताल पर बैठ गए हैं. नगर परिषद के अनुबंध पर कार्यरत स्वच्छता पर्यवेक्षक, जमादार, वाहन चालक और सफाई कर्मचारी तीन सूत्री मांगों की पूर्ति की मांग कर रहे हैं. सभी का आरोप है कि नगर परिषद के पदाधिकारी और जनप्रतिनिधि मनमाना तरीके से काम कर रहे हैं.
भारतीय कर्मचारी मजदूर यूनियन के बैनर तले नगर परिषद रामगढ़ के कर्मचारियों ने नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी को पिछले दिनों तीन सूत्री मांग पत्र सौंपा था. इसमें न्यूनतम मजदूरी, रक्षा बीमा, कोरोना काल प्रोत्साहन राशि की मांग शामिल है. इसमें नगर परिषद के पर्यवेक्षक, जमादार, वाहन चालक और सफाईकर्मियों को झारखंड सरकार की ओर से लागू न्यूनतम मजदूरी के तहत भुगतान किए जाने की मांग, नगर परिषद के सभी स्वच्छता कर्मचारियों का रक्षा बीमा नगर परिषद की ओर से शीघ्र कराने की मांग की. इसके अलावा कोरोना काल के समय बोर्ड द्वारा तय प्रोत्साहन राशि 2000 प्रतिमाह मासिक वेतन के साथ जोड़कर शीघ्र देने की मांग की थी, लेकिन नगर परिषद द्वारा यूनियन की मांग पर ध्यान नहीं दिया गया. इसके बाद भारतीय कर्मचारी मजदूर यूनियन के बैनर तले सभी कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं.