झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

सरस्वती पूजा पर कोरोना का साया मूर्तिकार हैं मायूस

सरस्वती पूजा पर कोरोना का साया मूर्तिकार हैं मायूस

कोरोना काल का प्रभाव हर तबके के लोगों पर पड़ा है. सरस्वती की प्रतिमा बनाने वाले गिरिडीह के मूर्तिकारों पर भी इसका असर पड़ा है. इस बार मूर्तियों का ऑर्डर काफी कम मिला है. जिससे मूर्तिकार काफी मायूस हैं.
गिरिडीह: कोरोना काल का प्रभाव अभी तक कम नहीं हुआ है. आज भी लोगों को विभिन्न परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. इसी तरह की परेशानी का सामना इन दिनों मूर्तिकार कर रहे हैं. इस बार मां सरस्वती की प्रतिमा बना चुके मूर्तिकारों को वाजिब मुनाफा नहीं मिल रहा है. यह सब मूर्तियों का ऑर्डर कम होने के कारण हुआ है.
मूर्तिकार बताते हैं कि इस बार कई स्थानों पर मां सरस्वती की प्रतिमा स्थापित नहीं हो रही है. इस कारण मूर्तियां भी कम बनी हैं तो कमाई भी कम हो रही है. कोलडीहा के रहने वाले जीतू कुमार सालों से मूर्तियां बनाते आ रहे हैं. पर्व त्योहार में घर का हर सदस्य मूर्तियां बनाने में जुट जाता है. इन मूर्तियों की बिक्री से हुई आमदनी से इनका घर चलता है लेकिन कोरोना के प्रभाव के कारण कमाई पर सीधा असर पड़ा है.
सुरेश पंडित भी बनी हुई मूर्तियों को लेकर परेशान हैं. सुरेश का कहना है कि इस बार स्कूल में भी सरस्वती पूजा नहीं हो रही है. जिसके कारण मूर्तियों का ऑर्डर नहीं मिला है. जिससे मूर्तिकार काफी मायूस हैं.