झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

सरायकेलाः बार एसोसिएशन के अध्यक्ष हुए कोरोना संक्रमित, 20 जुलाई-5 अगस्त तक बंद रहेगा कोर्ट

Ambuj Kumar Kunal Sarangi width Anshar Khan ADJ Kamlesh Jitendra Rais Rozvi Rishi Mishra Rina Gupta

सरायकेला-खरसावां जिले में कोरोना संक्रमण के लगातार मामले पाए जाने के बाद जिला सत्र एवं न्यायाधीश के आदेश पर सिविल कोर्ट 20 जुलाई से 5 अगस्त तक बंद किया गया है. इसी के साथ जमानत जैसे तत्काल मामलों की सुनवाई न्यायाधीश वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से करेंगे. कोर्ट परिसर बंद रखकर सैनिटाइजेशन का कार्य शुरू किया गया है.

सरायकेला/खरसावां: जिले में एक ही दिन में 9 कोरोना मरीज पाए जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग और लोगों में हड़कंप मचा हुआ है. इधर जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष के संक्रमित होने पर न्यायपालिका भी सकते में है. इसको लेकर बार बार एसोसिएशन ने एहतियात बरतते हुए जिला सत्र एवं न्यायाधीश के आदेश के बाद सिविल कोर्ट 20 जुलाई से 5 अगस्त तक बंद कर दिया है.
जिला एवं सत्र न्यायाधीश सरायकेला की तरफ से जारी आदेश के माध्यम से इस बात की घोषणा की गई है कि कोर्ट परिसर और अधिवक्ताओं के सुरक्षा के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है, जिला एवं सत्र न्यायाधीश की तरफ से जिला बार एसोसिएशन से अनुरोध किया गया है कि अधिवक्ता भी संक्रमण के प्रसार रोकने में योगदान दें, हालांकि इस दौरान जमानत जैसे तत्काल मामलों की सुनवाई न्यायाधीश की तरफ से घर से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की जाएगी. इधर कोर्ट परिसर को बंद रखकर सैनिटाइजेशन का कार्य शुरू किया जा रहा है. वहीं ऑनलाइन और व्हाट्सएप मैसेज से अदालती संबंधित कार्य निष्पादित किए जाएंगे.
रविवार देर शाम जिले के एक नर्स के घर में सात लोगों के संक्रमित होने का मामला सामने आया है. सिविल सर्जन डॉ. हिमांशु भूषण बरवार ने बताया कि चाईबासा में कार्यरत सरायकेला की एक नर्स के पॉजिटिव आने पर घर के 13 लोगों का सैंपल जांच के लिए लिया गया था, जिसमें 7 की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है. सिविल सर्जन ने बताया कि नर्स को क्वॉरेंटाइन रहना था, लेकिन वह सरायकेला से चाईबासा आना-जाना करती रही. इस बीच संक्रमण का दायरा फैला है. सिविल सर्जन ने बताया कि इस मामले में नर्स के विरुद्ध विभागीय एवं कानूनी कार्रवाई की जाएगी.
ब ता दें कि जिले में कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 126 हो गई है, जिसमें से 74 स्वस्थ हो गए हैं और जिले में अभी 50 एक्टिव केस मौजूद हैं. इधर संक्रमित लोगों के पास जाने के बाद संबंधित स्थानों को कंटेनमेंट जोन बनाने की प्रक्रिया जारी की गई है.

About Post Author