झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

सरायकेला में व्यक्ति की कुल्हाड़ी से हत्या, आरोपी ने खुद किया सरेंडर

कुणाल सारंगी

सरायकेला में मामूली विवाद में एक व्यक्ति की कुल्हाड़ी से मारकर हत्या कर दी गई. घटना गम्हरिया थाना क्षेत्र अंतर्गत मुसरीकुदर गांव की बताई जा रही है. हत्या के आरोपी ने खुद को पुलिस के हवाले भी कर दिया है.
सरायकेला: जिले के गम्हरिया थाना क्षेत्र अंतर्गत मुसरीकुदर गांव में मामूली विवाद में एक व्यक्ति की कुल्हाड़ी से मारकर हत्या कर दी गई. बताया जाता है मुसरीकुदर निवासी बादल प्रमाणिक का बीती रात गांव के ही मोहन सरदार नामक व्यक्ति द्वारा सिर पर कुल्हाड़ी से प्रहार कर हत्या कर दी गई. इसके बाद हत्या के आरोपी ने खुद को पुलिस के हवाले भी कर दिया है. घटना शुक्रवार देर रात की बताई जा रही है. प्राप्त जानकारी के अनुसार गांव में हाट बाजार की जमीन पर गाड़े गए लकड़ी के खूंटे को मृतक बादल प्रमाणिक द्वारा हटा दिया गया था, इस बात पर
नाराज होकर गांव के रहने वाले मोहन सरदार ने बादल प्रमाणिक के सिर पर कुल्हाड़ी से वार कर दिया.
इससे उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई. इस घटना के बाद आरोपी मोहन सरदार ने खुद पुलिस के सामने आत्मसमर्पण भी कर दिया है. इधर, घटना के बाद पुलिस द्वारा शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया और हत्या के आरोपी बादल सरदार को न्यायिक हिरासत में जेल भी भेज दिया गया है. बताया जाता है कि हत्या के आरोपी मोहन सरदार द्वारा वन विभाग की जमीन पर लगाए गए पेड़ पौधों की देखरेख और सुरक्षा की जाती है. इधर गांव में भी हाट और इसके आसपास के क्षेत्रों की देखरेख का काम आरोपी मोहन सरदार द्वारा किया जाता था. मोहन सरदार द्वारा जमीन पर लगाए गए पेड़ पौधों की देखरेख और सुरक्षा की जाती है. इधर गांव में भी हाट और इसके आसपास के क्षेत्रों की देखरेख का काम आरोपी मोहन सरदार द्वारा किया जाता था. मोहन सरदार द्वारा जमीन पर गाड़े गए खूंटे को बादल प्रमाणिक ने हटाया था, जिसके कारण वह आग बबूला हुआ और इस घटना को अंजाम दिया. मृतक के परिजनों ने बताया है कि मृत बादल प्रमाणिक की किसी व्यक्ति से कोई दुश्मनी नहीं थी, जबकि आरोपी मोहन सरदार से भी उसका कोई विवाद नहीं चल रहा था. बावजूद मामूली सी बात को लेकर हत्या किया जाना परिजनों की भी समझ से बाहर है.