झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

सरायकेला में अगस्त महीने के अपराध की समीक्षा बैठक

सरायकेला में पुलिस अधीक्षक की ओर से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अगस्त महीने के अपराध की समीक्षा बैठक की गई. बैठक में 3 साल से लंबित कांडों के जल्द निष्पादन के निर्देश सभी पुलिस पदाधिकारी को दिए गए हैं.

सरायकेला: जिला पुलिस के लिए अगस्त का महीना उपलब्धियों भरा रहा है. वहीं, इस सिलसिले में पुलिस अधीक्षक मोहम्मद अर्शी ने कोरोना काल में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मासिक क्राइम बैठक आयोजित की गई. इस बैठक में जिले के सभी थाना प्रभारी ओपी प्रभारी समेत अन्य पुलिस के वरीय अधिकारी मौजूद रहे.
क्राइम मीटिंग के दौरान पुलिस अधीक्षक ने वारंट के त्वरित निष्पादन किए जाने संबंधित लक्ष्य पुलिस पदाधिकारियों को दिए. इसके साथ ही लंबित कांडों की समीक्षा करते हुए तीन वर्ष से अधिक पुराने कांडों के निष्पादन में तेजी लाने का भी निर्देश दिया. क्राइम मीटिंग के बाद जिला पुलिस ने इस बात की जानकारी दी कि अगस्त महीने में जिला पुलिस ने कुल 72 अपराधियों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा है. इस दौरान पुलिस ने कुल छह हथियार, लगभग सौ राउंड जिंदा गोली समेत 72 आईईडी भी जब्त किए थे. जिला पुलिस की ओर से पुलिस महानिदेशक और महा निरीक्षक सम्मेलन 2019 अनुशंसा के तहत पुलिस और पुलिस परिवार के सदस्यों के कार्यों की सराहना और प्रोत्साहन का कार्य किया जा रहा है. इसके तहत पुलिसकर्मियों के बच्चों के किसी भी क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन किए जाने की सराहना करते हुए, उन्हें सम्मानित किया जा रहा है.
इस श्रृंखला की शुरुआत करते हुए पुलिस अधीक्षक ने सहायक अवर निरीक्षक हरी प्रसाद महतो की पुत्री सोनी कुमारी को वर्ष 2017 में तेलंगाना में आयोजित हुए 34 वें युवा राष्ट्रीय बास्केटबॉल चैंपियनशिप में चयनित होने पर सम्मानित किया. वहीं, पुलिस निरीक्षक राजेंद्र कुमार के पुत्र पीयूष कुमार को वर्ष 2019 में बिहार में आयोजित जूनियर नेशनल बास्केटबॉल चैंपियनशिप में चयनित होने पर प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया.