झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

संसद सत्र से पहले कांग्रेस में नियुक्तियां, लोकसभा में गौरव गोगोई होंगे उप नेता

सितंबर में संसद का मानसून सत्र शुरू होने की संभावना है. ऐसा कहा जा रहा है कि मानसून सत्र में केंद्र सरकार 18 बिलों को पास करवा सकती है. इसीलिए अब कांग्रेस ने भी कमर कस ली है और अपनी कमेटी का ऐलान किया है. पार्टी में नेतृत्व संकट और वरिष्ठ नेताओं के विरोध के बीच सोनिया गांधी ने युवा नेताओं को जिम्मेदारी दी

नई दिल्ली : कांग्रेस ने संसद से जुड़े विषयों पर पार्टी की रणनीति तय करने के लिए 10 सदस्यीय समिति बनाई है, जिनमें दोनों सदनों के पांच-पांच सदस्य शामिल हैं. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने गौरव गोगोई को लोकसभा में पार्टी का उप नेता नियुक्त किया है जबकि लुधियाना से सांसद रवनीत सिंह बिट्टू को सचेतक की जिम्मेदारी सौंपी है.
सूत्रों के मुताबिक, यह समिति बनाने के साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने वरिष्ठ नेता जयराम रमेश को राज्यसभा में मुख्य सचेतक नियुक्त किया है. पार्टी ने 10 सदस्यीय जो समिति बनाई है उसमें दोनों सदनों के नेता, उप नेता के अलावा पार्टी वरिष्ठ नेता अहमद पटेल शामिल किये गए
इसके साथ ही गौरव गोगोई को लोकसभा में पार्टी का उप नेता नियुक्त किया गया है जबकि लुधियाना से सांसद रवनीत सिंह बिट्टू को सचेतक की जिम्मेदारी सौंपी है. फिलहाल अधीर रंजन चौधरी लोकसभा में कांग्रेस के नेता हैं, जबकि के.सुरेश मुख्य सचेतक हैं. गोगोई पहले सचेतक की भूमिका में थे. इसके अलावा मणिकम टैगोर भी सचेतक हैं
कांग्रेस ने 14 सितंबर से आरंभ हो रहे संसद के मानसून सत्र से पहले ये नियुक्तियां की हैं. पार्टी ने अब तक लोकसभा में अपना उप नेता नियुक्त नहीं किया था.