झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

रोहतास के नहर में मगरमच्छ दिखने से हड़कंप पकड़ने पहुंची वन विभाग की टीम

कुणाल सारंगी

रोहतास के नहर में मगरमच्छ दिखने से हड़कंप पकड़ने पहुंची वन विभाग की टीम

रोहतास में दस फीट लंबा मगरमच्छ देखा गया. स्थानीय ग्रीमाण विशालकय मगरमच्छ को देखकर दहशत में हैं. उन्हें डर है कि मगरमच्छ गांव में ना घुस जाए. ऐसे में वन विभाग की टीम को मगरमच्छ को पकड़ने के लिए बुलाया गया लेकिन नहर में घंटों टोह लेने के बाद भी मगरमच्छ हाथ नहीं आया
रोहतास: बिहार के रोहतास के डेहरी प्रखंड स्थित अकोढ़ीगोला के प्रेमनगर दुमहान लख के समीप मुख्य नहर में करीब दस फीट लंबा एक मगरमच्छ को तैरते हुए ग्रामीणों ने देखा. मगरमच्छ की साइज और लंबाई देख ग्रामीण दहशत में है. मामले की सूचना वन विभाग को दी गयी. जिसके बाद विभाग से एक टीम को मगरमच्छ को पकड़ने के लिए भेजा गया लेकिन तब तक मगरमच्छ नहर की दूसरी छोड़ जा चुका था.
विशालकय मगरमच्छ दिखने की सूचना आसपास के इलाके में आग की तरह फैल गयी. ऐसे में सैकड़ों लोग उसे देखने पहुंच गए. इसी दौरान मगरमच्छ का किसी ने वीडियो भी बना लिया. स्थानीय लोगों का कहना है कि नहर में मगरमच्छ दिखने से लोग भयभीत है. किसी की हिम्मत नहीं हो रही कि अब नहर में उतरे. लोगों को मगरमच्छ के गांव में भी घुसने में डर सताने लगा है. ऐसे में नहर में मगरमच्छ के दिखने की सूचना स्थानीय थाने में दी गयी. मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष प्रभात कुमार ने जानकारी वन विभाग को दी.
वन विभाग को सूचना मिलते ही मगरमच्छ को पकड़ने के लिए डीएफओ मनीष कुमार वर्मा के नेतृत्व में एक टीम को भेजा गया. वन विभाग की टीम मगरमच्छ को पकड़ने के लिए बड़ा जाल सहित अन्य आधुनिक उपकरण लेकर आयी थी. टीम के लोग घंटों नहर में मगरमच्छ को पकड़ने के लिए टोह लेती रही लेकिन मगरमच्छ हाथ नहीं आया. इधर स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि मगरमच्छ काफी देर तक पानी के ऊपर रहा. इसके बाद नहर के पानी के गहरायी में चल गया.
मगरमच्छ पकड़ने के लिए बड़े जाल के साथ उपकरण से लैस होकर टीम पहुंची थी. टीम ने नहर में मगरमच्छ की घंटो टोह लेती रही. लगता है कि ग्रामीणों के हल्ला से मगरमछ नहर के दूसरे छोर के किनारे से डिहरी तरफ बढ़ने लगा है. वन विभाग कि टीम मगरमच्छ को पकड़ने का प्रयास कर रही है -मनीष कुमार वर्मा डीएफओ वन विभाग