झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

रिम्स के निर्माणाधीन नेत्र रोग संस्थान को लेकर बैठक, निर्माण निगम ने की तय से अधिक राशि की मांग

रिम्स के निर्माणाधीन नेत्र रोग संस्थान को लेकर बैठक, निर्माण निगम ने की तय से अधिक राशि की मांग

रिम्स में सालों से बन रहे निर्माणाधीन भवन को लेकर निर्माण निगम ने रिम्स के पदाधिकारियों के साथ एक अहम बैठक की. जिसमें भवन को पूरा करने के लिए और भी धनराशि की मांग की गई. पूरे मामले पर रिम्स के निदेशक डॉ कामेश्वर प्रसाद ने बताया कि निगम की ओर से मांगी गयी अत्यधिक राशि पर विचार किया जाएगा और अगली शासी परिषद की बैठक में चर्चा कर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

रांची: झारखंड के हजारों नेत्र रोगियों के बेहतर इलाज के लिए रिम्स में सालों से बन रहे भवन को लेकर मामला फिर से फंसता दिख रहा है. इसको लेकर पिछले दिनों भवन निर्माण निगम ने रिम्स के पदाधिकारियों के साथ एक अहम बैठक की, जिसमें भवन को पूरा करने के लिए और भी धनराशि की मांग की गई.
बैठक में भवन निर्माण को लेकर निगम ने नए प्रोजेक्ट के तहत रिम्स प्रबंधन से निर्धारित राशि से अत्यधिक राशि की मांग की है. जिसे लेकर रिम्स प्रबंधन ने कहा कि वह पूरे विवरण के साथ यह बताए कि उन्हें निर्धारित राशि से अधिक क्यों चाहिए और रिम्स क्षेत्रीय नेत्र रोग संस्थान भवन कब तक पूरा हो जाएगा.

वहीं, पूरे मामले पर रिम्स के निदेशक डॉ. कामेश्वर प्रसाद ने बताया कि निगम की ओर से मांगी गयी अत्यधिक राशि पर विचार किया जाएगा और अगली शासी परिषद की बैठक में चर्चा कर आगे की कार्रवाई की जाएगी.
रिम्स के क्षेत्रीय नेत्र रोग संस्थान का भवन पिछले 7 वर्षों से निर्माणाधीन है लेकिन अभी तक इसका काम पूरा नहीं हो पाया है जिस वजह से राज्य के हजारों नेत्र रोगी बेहतर इलाज नहीं करा पा रहे हैं.

रिम्स के क्षेत्रीय नेत्र रोग संस्थान के भवन का निर्माण नहीं होने के कारण डॉक्टरों की बहाली भी नहीं हो पा रही है. जबकि रिम्स को बेहतर नेत्र रोग अस्पताल बनाने के लिए 54 चिकित्सकों के बहाली की सूची भी बनाई गई थी, लेकिन भवन पूरा नहीं होने की वजह से चिकित्सकों की बहाली नहीं हो पा रही है.

अब यह देखने वाली बात होगी कि भवन निर्माण निगम की ओर से मांगी गई, अत्यधिक राशि पर रिम्स प्रबंधन कब मुहर लगाएगी और कब तक रिम्स का क्षेत्रीय नेत्र रोग संस्थान पूरा हो पाता है.