झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

रघुवर के शासन काल में नियुक्ति के नाम पर एक करोड़ ग्यारह लाख चौदह हजार गबन करने का आरोप

कुणाल सारंगी

झारखंड छात्र मोर्चा युवा नेता व पूर्व उपाध्यक्ष (छात्र संघ) चंदन ठाकुर ने पूर्व की रघुवर सरकार पर गंभीर आरोप लगाया है उन्होंने झारखण्ड वाणी संवाददाता को जानकारी देते हुए बताया कि 2018 में नगर विकास एवं आवास विभाग में संविदा आधारित 141 पदों के लिए दिनांक 2 जनवरी 2018 को कनीय अभियंता ( सिविल/इलेक्ट्रिकल/मेकैनिकल) के लिए आवेंदन आमंत्रित किया गया था जिसमे योग्यता डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग की तय की गई थी। विभाग के द्वारा इस विज्ञापन को पुनः दिनांक 09/10/2018 को प्रकाशित किया गया। इस विज्ञापन में प्रति छात्र ( सामान्य/अति पिछड़ा वर्ग/ पिछड़ा वर्ग/अनुसूचित जाति/अनुसूचित जन जाती ) से शुल्क के रूप में 2000₹ लिया जो कि खाता धारक का नाम M/S GENERAL MANAGER JUIDCO LTD. , खाता संख्या 708202010001816, IFSC CODE- UBIN0570826 में जमा ली गई।

उधर छात्र नेता ने आरोप लगाते कहा कि दो वर्ष छह महीने बीत जाने के बावजूद भी नियुक्ति का जानकारी लेने वाला कोई नही है। इस नियुक्ति के प्रथम विज्ञापन में कार्मिक, प्रशासनिक सुधार तथा राजभाषा विभाग के संकल्प संख्या 8566, दिनांक 28/09/2015 के अनुसार डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग थी परन्तु पुनः प्रकाशित विज्ञापन में इस नियमावली को नजरअंदाज करते हुए 4 वर्षिय बीटेक अभ्यर्थी को शामिल किया गया जो कि नियमावली के अनुसार उचित नही है। इस नियुक्ति में आवेदन करने वाले छात्रों की संख्या सिविल में 3136, इलेक्ट्रिकल में 1014 तथा मेकैनिकल के 1407 जो कि प्रति छात्र 2000 रुपया जमा किए गए थे जिसका कुल राशि एक करोड़ ग्यारह लाख चौदह हजार (11114000 ) है। झारखंड छात्र मोर्चा को वर्तमान हेमंत सरकार पर पूर्ण विश्वास है कि छात्रों के भविष्य के साथ जो खिलवाड़ किया गया है जिनमे करोड़ो रुपए की राशि का वारा न्यारा किया गया है उस मामले की हेमंत सरकार से उच्च स्तरीय जांच कर छात्र को न्याय दिलाने की मांग की है।