झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

राशन वितरण व्यवस्था के खिलाफ ग्रामीणों का प्रदर्शन, किया सड़क जाम

कुणाल सारंगी

पाकुड़ में जन वितरण प्रणाली व्यवस्था के तहत राशन डीलर से अनाज न मिलने पर ग्रामीणों ने सड़क जाम कर दिया. मामले की सूचना पर पहुंचे महेशपुर थाना प्रभारी के आश्वसन के बाद ग्रामीण सड़क से हटे.

पाकुड़: शासन और प्रशासन लाॅकडाउन के दौरान जरूरतमंदों के अलावा राशन कार्डधारियों को निर्धारित मात्रा में अनाज मुहैया कराने का दावा कर रहा है. दुसरी ओर इनके इस दावे की लाभुक ही पोल खोल रहे है. मामला जिले के महेशपुर प्रखंड के कालीदाहा मालधाड़ा का है, जहां राशन वितरण व्यवस्था के खिलाफ ग्रामीणों ने सड़क जाम कर प्रदर्शन किया. दरअसल, ग्रामीणों का आरोप है कि जन वितरण प्रणाली व्यवस्था के तहत राशन डीलर से अनाज नहीं मिल रहा है.
जन वितरण प्रणाली व्यवस्था के तहत राशन डीलर से अनाज न मिलने पर ग्रामीण सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करते हुए सड़क पर उतर गए. अनाज पाने की आस लिए सड़क पर उतरे ग्रामीणों ने महेशपुर गुमामोड़ मुख्य पथ को घंटों तक जाम किया. सड़क जाम कर रहे लोग शासन-प्रशासन से अनाज मुहैया कराने की मांग कर रहे थे. ग्रामीणों के मुताबिक जब से लाॅकडाउन लागू हुआ है, उन्हे मात्र एक बार दस किलोग्राम चावल मिला है.
वहीं, गांव के राशन डीलर रमेश देहरी के मुताबिक उसे वितरण के लिए आवंटन मिला ही नहीं है. सड़क जाम की सूचना मिलने पर महेशपुर थाना प्रभारी दिनेश प्रसाद चौरसिया बल के साथ मौके पर पहुंचे. थानेदार ने लोगों की बातों को सुना और उन्हें अनाज मिल सके इसके लिए अपने स्तर से प्रयास करने का आश्वासन दिया. थानेदार के आश्वासन के बाद ग्रामीण सड़क से हटे.