झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

रांची नगर निगम ने अपर बाजार के भवन मालिकों से मांगा स्वीकृत नक्शा

कुणाल सारंगी

रांची नगर निगम ने अपर बाजार के 85 भवन मालिकों को नोटिस भेजकर एक सप्ताह के भीतर स्वीकृत नक्शा दिखाने को कहा है. स्वीकृत नक्शा नहीं दिखाने वाले भवन मालिकों पर निगम अवैध निर्माण का केस (यूसी केस) दर्ज करेगा. इनमें से अधिकतर भवन मालिक अपर

बाजार के रंगरेज गली, सोनार पट्टी और आस-पास के गली में बने भवन मालिकों को दी गई है.

रांची: नगर निगम ने अपर बाजार के 85 भवन मालिकों को नोटिस जारी कर एक सप्ताह के अंदर स्वीकृत निगम कार्यालय में जमा करने का निर्देश दिया है. पिछले दिनों नगर निगम की ओर से अपर बाजार का सर्वे किया गया था, जिसमें नगर निगम ने भवन मालिकों से नक्शे की मांग की थी, लेकिन कई लोगों ने नक्शा नहीं दिखाया था. इसे लेकर अब निगम ने नोटिस जारी किया है रांची नगर निगम ने अपर बाजार के 85 भवन मालिकों को नोटिस भेजकर एक सप्ताह के भीतर स्वीकृत नक्शा दिखाने को कहा है. स्वीकृत नक्शा नहीं दिखाने वाले भवन मालिकों पर निगम अवैध निर्माण का केस (यूसी केस) दर्ज करेगा. इनमें से अधिकतर भवन मालिक अपर बाजार के रंगरेज गली, सोनार पट्टी और और आस-पास के गली में बने भवन मालिकों को दी गई है. भवन मालिकों को निगम की ओर से भेजे गए नोटिस में कहा गया कि सर्वे के दौरान जब उनके भवन का स्वीकृत नक्शा मांगा गया तो वे नक्शा नहीं दिखा पाएं. वहीं 65 और नए लोगों के नोटिस भेजे जाने की तैयारी है. जिन लोगों की ओर से नक्शा नहीं दिखाया गया था, उनको लगातार नोटिस दी जाएगी.
रांची नगर निगम एक सप्ताह के अंदर स्वीकृत नक्शा जमा नहीं किए जाने पर भवन मालिकों पर अवैध निर्माण का केस दर्ज कर सकती है. ऐसे लोगों को इसी सप्ताह नोटिस भेजकर निगम के समक्ष नक्शा उपस्थित करने को कहा गया है. अधिकतर भवन मालिक नक्शा नहीं दिखा पाए. भवन मालिकों का कहना है कि अधिकतर भवन कई साल पुराने बने हुए हैं. उस समय नक्शा पास नहीं होता था. दुकानदार का कहना है कि उनके पास जमीन के कागजात नगर निगम को दिए जाने वाले होल्डिंग टैक्स की रसीद सहित अन्य कागजात हैं, लेकिन भवन का स्वीकृत नक्शा नहीं है दरअसल हाई कोर्ट ने अपर बाजार के सभी भवनों का स्टेटस रिपोर्ट मांगा था. इसके बाद निगम की ओर से सर्वे किया गया था और करवाई शुरू की गई है.