झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

राम मंदिर निर्माण की पूर्व संध्या पर राममय हुआ सूर्यमंदिर

कुणाल सारंगी
  • 5001 देशी घी के दीप से जगमग हुआ सूर्य मंदिर

जमशेदपुर: अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के भूमि पूजन के ऐतिहासिक अवसर पर लौहनगरीवासी प्रफुल्लित हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भव्य श्रीराम मंदिर निर्माण के भूमि पूजन की पूर्व संध्या पर सिदगोड़ा स्थित सूर्य मंदिर परिसर में दीपावली का नजारा देखने को मिला। सूर्य मंदिर कमिटी के मुख्य संरक्षक सह प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास के निर्देश पर पूरे सूर्य मंदिर परिसर व राम मंदिर को रंग-बिरंगी लाईटों से सजाया गया। मंदिर के गुंबद पर प्रभु राम की बड़ी आकृति वाले ध्वज, परिसर के चहारदीवारी एवं आसपास के प्रमुख सड़कों पर लगे जय श्री राम लिखे ध्वजों ने पूरे क्षेत्र को भक्तिमय बना दिया। संध्याकाल में 5001 देशी घी के दीप जलाए गए। मंदिर परिसर में दीप से ‘जय श्री राम’ व स्वास्तिक बनाकर खुशियाँ मनाई गई। इस दौरान आचार्यों ने संगीतमय सुंदरकांड का पाठ किया, जिसका लाइव प्रसारण फेसबुक के माध्यम से किया गया। संध्या पूजन में रघुवर दास शामिल हुए और संध्या आरती के संग पूरे विधि-विधान से राम दरबार की पूजा की। इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री सह सूर्य मंदिर कमिटी के मुख्य संरक्षक रघुवर दास ने राम मंदिर आंदोलन को स्मरण करते हुए कहा कि ऐतिहासिक व स्वर्णिम दिन के पूर्व संध्या पर सूर्य मंदिर परिसर में अयोध्या नगरी में बनने वाले श्रीराम मंदिर के तर्ज पर बना राम मंदिर जमशेदपुरवासियों की आस्था का प्रतीक है। बताया कि राम मंदिर आंदोलन के समय उन्होंने प्रभु श्रीराम का एक मंदिर बनवाने का प्रण लिया था। जो इसी वर्ष पूरा हुआ है। कहा कि शहर के रामभक्तों के लिए सूर्यमंदिर धाम में भव्य श्रीराम मंदिर बनवाया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा अयोध्या में कल राम मंदिर का भूमि पूजन होगा। मेरे साथ यह करोड़ों राम भक्तों के लिए भावुक क्षण है। उन्होंने कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए जमशेदपुर व राज्य की जनता से राम मंदिर निर्माण की हर्षित बेला में अपने घरों में दीप जलाने का आह्वान किया और कहा कि सैकड़ो वर्ष पूर्व हमारे पूर्वजों द्वारा देखे गए सपने आज पूर्ण हो रहे हैं। इस ऐतिहासिक व स्वर्णिम दिन पर सभी रामभक्त अपनी भागीदारी सुनिश्चित करते हुए इसके गवाह बनें। इससे पहले, पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सूर्य मंदिर में दो दिवसीय आयोजन की तैयारियों का जायजा भी लिया और इसकी भव्यता एवं पूर्णता हेतु कार्यकर्ताओं को कई आवश्यक दिशा निर्देश दिये ।

इस दौरान दिनेश कुमार, मिथिलेश सिंह यादव, कमलेश सिंह, गुंजन यादव, कुलवंत सिंह बंटी, अमरजीत सिंह राजा, गुरुदेव सिंह राजा, हलधर नारायण साह, सुशांता पांडा, राकेश सिंह, सतबीर सिंह सोमू, धर्मेंद्र प्रसाद, प्रेम झा, कुमार अभिषेक, विष्णु केवर्त, ज्योति अधिकारी, नीलू झा, भारती कुमारी, सुधा यादव, सीमा जयसवाल, मुक्ता ममता, आरती यादव, रूपा देवी, कौस्तव राय, जयदीप मुखर्जी, नरेंद्र सिंह व अन्य का सराहनीय योगदान रहा।