झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

पुलिस मुख्यालय पर फूटा कोरोना बम, 22 पुलिसकर्मी हुए संक्रमित, डीजीपी, आईजी समेत अन्य अधिकारी होंगे क्वॉरेंटाइन

Ambuj Kumar Kunal Sarangi width Anshar Khan ADJ Kamlesh Jitendra Rais Rozvi Rishi Mishra Rina Gupta

रांची:झारखण्ड वाणी संवाददाता: कोरोना रिपोर्ट में झारखंड पुलिस मुख्यालय के 22 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. इस रिपोर्ट के बाद पुलिस मुख्यालय को सील करने की बात हो रही है. वहीं कुछ आईपीएस अधिकारियों के बॉडीगार्ड्स के भी संक्रमित होने की बात सामने आ रही है.
रांची: राज्य पुलिस मुख्यालय में सोमवार को कोरोना बम फूटा. यहां के 22 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित हो गए हैं. राज्य पुलिस मुख्यालय की आईजी प्रोविजन सुमन गुप्ता की शाखा के अलावा रक्षित शाखा के कर्मी, डीआईजी कार्मिक और मुख्यालय कैंटीन के कर्मी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं.
पुलिस मुख्यालय में इतनी बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमण की वजह से डीजीपी एमवी राव, आईजी सुमन गुप्ता समेत कई बड़े अफसरों पर संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है. देर शाम पुलिसकर्मियों की रिपोर्ट आने के बाद उनकी कांटैक्ट ट्रेसिंग का काम शुरू हो गया है. इससे पहले आईजी मुख्यालय विपुल शुक्ला के रीडर कोराना संक्रमित पाया गया था. जिसके बाद मुख्यालय के सेक्शन को सील कर सैनेटाइज कराया गया था. 22 पुलिसकर्मियों के कोराना पॉजिटिव मिलने के बाद अब पूरे पुलिस मुख्यालय को भी सील करना होगा. कुछ आईपीएस अधिकारियों के बॉडीगार्ड्स के भी संक्रमित होने की बात कही जा रही है.
झारखंड पुलिस के 252 पुलिसकर्मी अब तक कोरोना संक्रमित हुए हैं. वहीं 11 पुलिसकर्मी ठीक होकर कोविड सेंटर से घर लौट चुके हैं. जैप के डीएसपी और हिंदपीढ़ी थानेदार भी कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं. राज्य पुलिस के आंकड़ों के मुताबिक, 2 डीएसपी, 6 इंस्पेक्टर, 25 दारोगा, 34 एएसआई, 1 क्लर्क एएसआई स्तर के अधिकारी कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं.
राज्य में 24 हवलदार, 122 आरक्षी, 6 चतुर्थवर्गीय कर्मचारी, 9 होमगार्ड जवान कोरोना संक्रमित मिले हैं. संक्रमित होने वालों में सीआरपीएफ के भी कई जवान शामिल हैं. लातेहार में 60 से अधिक सीआरपीएफ जवान कोरोना संक्रमित हुए हैं. वहीं रांची के नामकुम आर्मी अस्पताल में भी कई जवान संक्रमित पाए गए हैं.
विधि-व्यवस्था और कोरोना में ड्यूटी के दौरान जवान संक्रमित न हों, इसके लिए प्रत्येक जिला के एसपी को 33-33 लाख रुपये की राशि आवंटित हो चुकी है. इन रुपयों से जवानों के लिए सुरक्षा उपकरण मसलन मास्क, सैनेटाइजर, ग्लब्स समेत अन्य चीजों की खरीद करनी है.

About Post Author