झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

पर्स गुम होने पर पिता को बेटे ने लोहे के मूसल से कूचकर मार डाला

Ambuj Kumar Kunal Sarangi width Anshar Khan ADJ Kamlesh Jitendra Rais Rozvi Rishi Mishra Rina Gupta

बोकारो। उत्तम राउत संवाददाता: हरला थाना क्षेत्र के सेक्टर में 70 वर्षीय मुमताज अहमद की उसके बेटे इम्तियाज अहमद (40 वर्ष) ने निर्मम हत्या कर दी। हत्या कर भागने के दौरान मंगलवार सुबह साढ़े तीन बजे हरला पुलिस की पेट्रोलिंग ने उसे गिरफ्तार कर लिया। घटनास्थल सेक्टर 9 के आवास संख्या 501 से हत्या में प्रयुक्त लोहे का खून लगा मूसल व लाठी बरामद कर लिया गया है। घटना के दौरान घर में मौजूद जख्मी मां शहजादी बेगम के बयान पर पिता की हत्या में इम्तियाज अहमद को आरोपी बनाते हुए केस दर्ज किया गया है। मुमताज अहमद बीएसएल से 10 साल पहले सेवानिवृत्त हो चुके थे। सिवनडीह में अपना मकान था। लेकिन, उसे बेचकर सेक्टर 9 में बीएसएल से लीज पर लिए आवास में पत्नी व हत्यारे बेटे के साथ रहते थे।

हत्या की वजह स्पष्ट नहीं : पुलिस की प्रारंभिक जांच में हत्या का कोई ठोस वजह सामने नहीं आया है। शहजादी बेगम के दिए बयान अनुसार आरोपी इम्तियाज का पर्स गुम हो गया था। जिसमें उसके कुछ जरूरी कागजात थे। उसे शक था कि पिता ने पर्स चोरी कर ली है। इसी बात को लेकर सोमवार रात ग्यारह बजे से विवाद शुरू हो गया। इसी बीच रात एक से दो बजे के बीच मसाला कूटने वाले खलवट के मूसल से वह पिता के शरीर पर वार करने लगा। पिता हर जख्म के साथ चीखता चिल्लाता रहा। पति के बचाव में आई मां को भी डंडे से मार कर सिर फोड़ दिया। लगभग ढाई बजे के आसपास जब पिता ने दम तोड़ दिया तो वह घर से फरार हो गया।

सनक का खौफनाक मंजर : घटनास्थल की स्थिति हत्यारे की सनक को बयां कर रही थी। मृतक मुमताज को शव खून से लथपथ फर्स पर था और मां लहूलुहान एक कोने में बेहोश पड़ी थी। मुमताज के सिर को लोहे के मूसल से कूच दिया गया था। शरीर पर अनगिनत जख्म बनाए गए थे।

बचाव में बोला झूठ : इम्तियाज को संदिग्ध हालत में पकड़ा गया तो उसके शरीर पर खून के छींटे थे। उससे पूछताछ में कहा कि कुछ पहचान के लोगों ने उसके पिता की हत्या कर दी है, वह उसके पीछे जा रहा था। घर आने के बाद मां ने भी बेटे को बाप की हत्या से बचाने के लिए झूठ बोला। पुलिस ने पड़ोस में घटना की जानकारी ली सच्चाई सामने आ गई। सख्ती से पूछताछ में मां ने बेटे के गुनाह को कुबूल कर लिया।

आपराधिक प्रवृति : आरोपी इम्तियाज आपराधिक प्रवृत्ति का है। उसने इस उम्र में तीन शादी कर रखी है। लगभग साल भर पहले बकरीद के दिन उसने मस्जिद के इमाम को चाकू मारकर जख्मी कर दिया था। इस मामले में वह जेल जा चुका है।

About Post Author