झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

पूर्व की तरह नहीं होगा घोटाला, ठंड में गरीबों को मिलेगा कंबल- स्वास्थ्य मंत्री

जमशेदपुर में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा है कि पूर्व की तरह इस बार कंबल घोटाला नहीं होगा. इस ठंड में गरीबों को कंबल जरूर मिलेगा. इसके तहत उपायुक्त ने गाइडलाइन भी जारी कर दी है.
जमशेदपुर: राज्य में बदलते मौसम में बढ़ती ठंड को देखते हुए झारखंड सरकार ने गरीबों को ठंड से राहत दिलाने के लिए पूरी तैयारी कर ली है. झारखंड के स्वास्थ्य सह आपदा प्रबंधन मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा है कि राज्य के सभी चौबीस जिलों को अलाव के लिए पैसे आवंटन कर दिया गया है. उन्होंने साफ तौर पर कहा है
कि पूर्व की सरकार की तरह इस सरकार में कंबल घोटाला नहीं होगा. सभी गरीबों को कंबल दिया जाएगा.
झारखड़ में ठंड ने दस्तक दे दी है. ठंड में सड़क किनारे गुजर-बसर करने वाले और गरीबों को ठंड से राहत दिलाने के लिए झारखंड सरकार की तरफ से पूरी तैयारी कर ली गई है. आपदा प्रबंधन विभाग ने गरीब जरूरतमंद के लिए ठंड में अलाव के लिए लकड़ी, कंबल और ठंड में रहने के लिए सराय के अतिरिक्त स्थल की व्यवस्था की जा रही है.
झारखंड के स्वास्थ्य सह आपदा प्रबंधन मंत्री बन्ना गुप्ता ने बताया है कि आपदा प्रबंधन की तरफ से राज्य के सभी चौबीस जिला में ठंड से बचाव के लिए अलाव की व्यवस्था के लिए राशि आवंटित कर दी गई है. इसके साथ ही सभी जिला उपायुक्त को गाइडलाइन दिया गया है. उन्होंने साफ तौर पर कहा है कि वर्तमान सरकार नारा देने का काम नहीं करती है धरातल पर काम करती है. पूर्व की सरकार में कंबल घोटाला से राजस्व का नुकसान हुआ था. इस सरकार में सभी गरीब जरूरतमंद को कंबल दिया जाएगा. इस मामले में मुख्यमंत्री भी गंभीर हैं. उन्होंने आदेश पारित कर दिया है.
स्वास्थ्य मंत्री ने बताया है कि ठंड में गरीबों के रहने के लिए सराय के अतिरिक्त खाली पड़े सरकारी भवन, सामुदायिक भवन की व्यवस्था की जाएगी. इसके लिए राज्य के सभी जिला उपायुक्त को जिम्मेदारी दी गई है. मंत्री बन्ना गुप्ता ने बताया है कि वर्तमान सरकार जनता की सरकार है, यदि किसी भी अधिकारी या कर्मचारी की तरफ से ठंड से गरीबों को बचाने के क्रम में कोई अनिमियतता हुई तो उसका पूरा सख्ती के साथ निरीक्षण किया जाएगा.