झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

पीडीएस दुकानदारों के खिलाफ प्रदर्शन, जामताड़ा मुख्य मार्ग पर यातायात बाधित

दुमका में खिलकिनारी और जरजोखा के लाभुकों ने जनवितरण प्रणाली के दुकानदारों के खिलाफ जामा-जामताड़ा मुख्य मार्ग के लकड़जोरिया चौक पर प्रदर्शन किया. इसके चलते मार्ग पर जाम लग गया. इससे चार घंटे यातायात बाधित रहा.

दुमकाः निर्धारित मात्रा से कम अनाज देने वाले दुकानदार पर कार्रवाई कराने के लिए खिलकिनारी और जरजोखा के लाभुकों ने जामा-जामताड़ा मुख्य मार्ग के लकड़जोरिया चौक पर जाम लगा दिया. जाम की वजह से करीब तीन किलोमीटर तक वाहनों की लंबी कतार लग गई. ग्रामीणों को समझाने में सीओ, बीडीओ और थानेदार के पसीने छूट गए. सभी ने डीलर पर कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम समाप्त कराया. इस दौरान चार घंटे यातायात बाधित रहा. लाभुक बाबुजन मरांडी, सुनील हांसदा, राजीव रंजन, विलासी मुर्मू, बबलु मरांडी, पंकज मरांडी, संजय हासदा, अजय मरांडी और अर्जुन मुर्मू आदि का कहना है कि खिलकिनारी गांव के सिदो कान्हु मे जनवितरण प्रणाली के दुकानदार की ओर से कम राशन, किरोसिन तेल दिया जाता है और कीमत बढ़ाकर ली जाती है. चार दिन पहले ही बीडीओ के माध्यम से उपायुक्त को कार्रवाई के लिए आवेदन दिया लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई. समूह के तहत चलने वाली दुकान के सभी दस सदस्य कार्डधारियों के साथ खराब व्यवहार करते हैं. प्रति यूनिट में कटौती की जाती है. डरा-धमकाकर कई लाभुक का राशन कार्ड अपने पास रख लिए हैं. सभी ने दूसरे दुकानदार से अनाज दिलाने की मांग की है
प्रखंड विकास पदाधिकारी सिद्धार्थ शंकर यादव, अंचलाधिकारी सुनील कुमार, प्रभारी एमओ सखीचंद्र दास और थाना प्रभारी कृष्णा राम मौके पर पहुंचे. बीडीओ और सीओ ने काफी समझाया लेकिन लाभुक लिखित आश्वासन देने की मांग पर अड़े रहे. बीडीओ ने मोबाइल जिला आपूर्ति पदाधिकारी से बात कर सारी स्थिति से अवगत कराया. इसके बाद बीडीओ ने ग्रामीणों को लिखित आश्वासन दिया कि अगस्त माह का चावल रविवार को एमओ की निगरानी में बांटा जाएगा. सितंबर माह का अनाज दूसरे दुकानदार के माध्यम से वितरित कराया जाएगा. करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद लाभुकों ने जाम हटाया.