झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

पंचायत प्रतिनिधियों का प्रतिनिधिमंडल पेयजल स्वच्छता विभाग के कार्यपालक अभियंता को ज्ञापन सौंपा

जमशेदपुर:बागबेडा, कीताडीह, घाघीडीह क्षेत्र के पंचायत प्रतिनिधियो का एक प्रतिनिधि मंडल जिला पार्षद किशोर यादव के नेतृत्व में पेयजल स्वच्छता विभाग कार्यपालक अभियंता अभय टोप्पो को ज्ञापन सौंपकर बागबेडा ग्रामीण जलापूर्ति योजना का काम पुनः शुरू करने की मांग की। ज्ञापन के माध्यम से बताया गया है कि बागबेड़ा ग्रामीण जलापूर्ति योजना का काम विभागीय एवं कार्यपालक एजेंसी आइएलएफएस की लापरवाही के कारण पिछले छह माह से काम बंद है। गर्मी शुरू होने को है बागबेडा, कीताडीह, घाघीडीह क्षेत्र मे गंभीर समस्या है। योजना था पाईप विछाने का, बड़ोदा घाट में पाईप लाईन पार करने के लिए ब्रीज निर्माण का काम अविलंब शुरू करने की मांग की गयी ताकि ब्रीज निर्माण वर्षा के मौसम से पूर्व पूर्ण हो सके। बागबेड़ा ग्रामीण जलापूर्ति योजना 2015 में शुरू हुई थी योजना को 2018 में पूर्ण होना था परंतु आज 2021 में योजना अधूरा है योजना की 237 में 211 करोड राशि खर्च होने के बाद भी बागबेडा, कीताडीह, धाधीडीह क्षेत्र के लोगो को एक बूंद भी पानी नहीं मिल रहा है।
जिला पार्षद किशोर यादव ने विभाग के कार्यपालक अभियंता से कहा कि पन्द्रह दिनों के अंदर जलापूर्ति योजना का काम पुनः शुरू किया जाए नहीं तो बागबेडा ,कीताडीह, धाधीडीह के पंचायत प्रतिनिधिगण योजना का काम पुनः शुरू करने की मांग को लेकर दिनांक 27 एंव 28 फरवरी को 51 धंटे की अनशन पर बैठेंगे।
प्रतिनिधिमंडल मे मुख्य रूप से मुखिया प्रतिमा मुंडा, मायावती टुडू, नीनू कुदादा,जोबा मारडी,बुधराम टोप्पो, पंचायत समिति सदस्य धमेंद्र चौहान,नीरज सिंह, झरना मिश्रा ,नीरज सिंह, वार्ड सदस्य सुरेश निषाद, बबीता देवी राज कुमार गोंड ,प्रमोद शाह, मनोज मुरमू आदि अन्य कई लोग उपस्थित थे।