झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

पांच से सात मार्च तक होगा बिरसा कृषि विश्वविद्यालय में पूर्वी क्षेत्रीय एग्रोटेक किसान मेला का आयोजन पांच राज्यों के किसान लेंगे भाग

पांच से सात मार्च तक होगा बिरसा कृषि विश्वविद्यालय में पूर्वी क्षेत्रीय एग्रोटेक किसान मेला का आयोजन पांच राज्यों के किसान लेंगे भाग

बिरसा कृषि विश्वविद्यालय में पूर्वी क्षेत्रीय एग्रोटेक किसान मेला पांच से सात मार्च तक आयोजित की जाएगी. इस किसान मेला में पांच राज्यों के किसान और अन्य हितधारक भाग लेंगे.

रांची: कृषक समुदाय को कृषि, पशुपालन, वानिकी, जैव प्रौद्योगिकी, खाद्य प्रसंस्करण, मत्स्यपालन, डेयरी प्रौद्योगिकी, कृषि यंत्रीकरण आदि की नवीनतम तकनीकों से अवगत कराने के उद्देश्य से बिरसा कृषि विश्वविद्यालय की तरफ से आगामी पांच से सात मार्च तक एक पूर्वी क्षेत्रीय एग्रोटेक किसान मेला का आयोजन किया जाएगा. यह आयोजन विश्वविद्यालय के कांके स्थित मुख्य प्रांगण में किया जाएगा. मेला में बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ और ओडिशा के किसान, स्वयंसेवी संस्थाएं, शोध संस्थान और कृषि पदाधिकारी भाग लेंगे. इस वर्ष मेला का थीम ‘कृषि उद्यमों के विविधीकरण की तरफ से ग्रामीण संपन्नता’ रखा गया है.

बीएयू के कुलपति डॉ. ओंकार नाथ सिंह की अध्यक्षता में विश्वविद्यालय के वरिष्ठ पदाधिकारियों की हुई बैठक में मेला की तैयारियों की समीक्षा की गई. एक दर्जन पंडालों में विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों, संकायों, क्षेत्रीय अनुसंधान केंद्रों, कृषि विज्ञान केंद्रों, कृषि व्यवसाय प्रबंधन केंद्र और बीपीडी-बीएयू सोसाइटी की तकनीकों, सेवाओं और उत्पादों को प्रदर्शित किया जाएगा. साथ ही राज्य के कृषि, उद्यान, भूमि संरक्षण, पशुपालन, डेयरी और मत्स्यपालन निदेशालय, झारखंड और पूर्वी क्षेत्र में अवस्थित आईसीएआर संस्थान का भी स्टॉल लगेगा. इस तीन दिवसीय आयोजन में पूर्वी राज्यों से हजारों की संख्या में आने वाले किसान भाई-बहन, कृषि अधिकारी प्रसार कार्यकर्ता और कृषि विकास के अन्य हितधारक नवीनतम तकनीकों की जानकारी प्राप्त करने के साथ-साथ अपने ज्ञान और अनुभव का आदान-प्रदान भी करेंगे.
फल, फूल, सब्जी, मसाले, तथा औषधीय एवं सुगंधित पौधों से युक्त एक भव्य बागवानी प्रदर्शनी तथा गोवंश, भैंस, भेड़, बकरी, सूअर, मुर्गी, बत्तख आदि से युक्त पशु-पक्षी प्रदर्शनी का भी आयोजन इस तीनदिवसीय मेला में किया जाएगा. मेला के दूसरे दिन 6 मार्च को महिला कृषक संगोष्ठी होगी मेला में स्टाल लगाने को इच्छुक बीज, उर्वरक, कीटनाशक एवं कृषि यंत्र निर्माता और विक्रेता, बैंक, स्वयंसेवी संगठन स्टॉल बुकिंग के लिए फोन नंबर 7 0044 34601 और मेल आईडी imsan25@yahoo.com संपर्क कर सकते हैं.
निदेशक प्रसार शिक्षा डॉ. जगरनाथ उरांव, निदेशक अनुसंधान डॉ. ए वदूद, निदेशक बीज और प्रक्षेत्र डॉ. ऋषिपाल सिंह, अधिष्ठाता कृषि डॉ एमएस यादव, अधिष्ठाता पशुचिकित्सा डॉ. सुशील प्रसाद, अधिष्ठाता वानिकी डॉ. एम एच सिद्दीकी, अधिष्ठाता स्नातकोत्तर संकाय डॉ. एम के गुप्ता और कुलसचिव डॉ. नरेंद्र कुदादा की टीम मेला की भव्यता और व्यापक सफलता के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएगी.