झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

निदेशक डीआरडीए की अध्यक्षता में बैठक

जमशेदपुर जिले में मंगलवार को निदेशक डीआरडीए की अध्यक्षता में होम आईसोलेशन कोषांग के सदस्यों के साथ बैठक हुई. जहां होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों की डाटा इंट्री और मॉनिटरिंग करने पर विस्तार से चर्चा की गई.

जमशेदपुर: समाहरणालय में मंगलवार को निदेशक डीआरडीए अनिता सहाय की तरफ से होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों के वस्तुस्थिति की जानकारी लेने के लिए गठित कोषांग के सदस्यों के साथ बैठक किया गया. होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर डाटा इंट्री और मॉनिटरिंग में क्या चुनौतियां हो सकती हैं, इसपर विस्तार से विमर्श किया गया.  साथ ही तय कार्ययोजना के तहत कार्य संपादन का निर्देश डीआरडीए निदेशक की तरफ से दिया गया. होम आईसोलेशन में रह रहे लोगों के संबंध में प्रतिवेदन गूगल स्प्रेड शीट में प्रतिदिन राज्य को भेजा जा रहा है और इसकी भी समीक्षा की गई. गौरतलब है कि पिछले दिनों स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार एवं झारखंड सरकार की तरफ से बिना लक्षण वाले कोरोना संक्रमितों के होम आइसोलेशन में रखने संबंधी दिशा-निर्देश जारी किए गए थे, जिसके आलोक में उपायुक्त सूरज कुमार की तरफ से कोषांग का गठन करते हुए होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों की नियमित मॉनिटरिंग का निर्देश दिया गया था. कोषांग गठन के पश्चात प्रतिदिन इसके सदस्यों की तरफ से होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों को दूरभाष के माध्यम से मॉनिटरिंग किया जा रहा है, ताकि जिला प्रशासन को ज्ञात रहे कि संबंधित व्यक्ति को स्वास्थ्य संबंधी कोई समस्या तो नहीं आ रही है.
बता दें कि आईडीएसपी कार्यालय की तरफ से प्रतिदिन होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों की सूची उपलब्ध कराई जाती है, जिसके बाद संबंधित व्यक्तियों से संपर्क स्थापित कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली जा रही है. वहीं इस क्रम में जिनका रिपोर्ट निगेटिव आता है उन्हें होम आइसोलेशन की सूची से हटा दिया जाता है.
बैठक में जिला जनसंपर्क पदाधिकारी रोहित कुमार, सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा अमरेंद्र कुमार, डॉ. इरफानुल्लाह अंसारी-आयुष चिकित्सा पदाधिकारी, डॉ. कुंदन कुमार सिंह- चिकित्सक, परिक्ष्यमान उप-समाहर्ता, विक्रम अग्रवाल, श्रीमती प्रिया कामना कुजुर, श्रीमती मनीषा सिन्हा, वालंटियर, कंप्यूटर ऑपरेटर उपस्थित रहे