झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

कोविड-19 सेंटर से जैप का जवान फरार

कुणाल सारंगी

लोहरदगा में कोरोना से संबंधित दो बड़े मामले सामने आए हैं. एक मामले में कोविड-19 सेंटर से एक संदिग्ध कोरोना संक्रमित जैप का जवान फरार हो गया है, जबकि दूसरे मामले में स्वास्थ्य विभाग का डेटा तैयार करने वाले स्टाफ ने एक

पॉजिटिव महिला को नेगेटिव बताकर घर भेज दिया.

लोहरदगा: जिले में कोरोना से संबंधित दो बड़े मामले सामने आए हैं. एक मामले में कोविड-19 सेंटर से एक संदिग्ध कोरोना संक्रमित जैप (झारखंड सैन्य पुलिस) का जवान फरार हो गया है, जबकि दूसरे मामले में स्वास्थ्य विभाग का डेटा तैयार करने वाले लोगों की लापरवाही उजागर हुई है. स्वास्थ्य विभाग ने पहले तो एक महिला को नेगेटिव बताकर उसे घर भेज दिया. बाद में महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो उसे घर से वापस कोविड-19 सेंटर लाया गया. दोनों ही मामलों को लेकर जिले में हड़कंप मचा है.
लोहरदगा में सुरक्षा सहित अन्य मामलों को लेकर जैप के जवानों को प्रतिनियुक्त किया गया है, जिसमें एक जवान के कोरोना संदिग्ध पाए जाने पर उसे जवाहर नवोदय विद्यालय जोगना कोविड-19 सेंटर में भर्ती किया गया था, जहां से वह जवान फरार हो गया. जब संदिग्ध मरीजों की गिनती हो रही थी तो पता चला कि पुलिस का एक कोरोना संदिग्ध जवान लापता है. काफी खोजबीन करने पर भी जवान का पता नहीं चल पाया. इसके बाद मामले की जानकारी संबंधित अधिकारियों को दी गई है.
दूसरे मामले के मुताबिक शहरी क्षेत्र की रहने वाली एक कोरोना वायरस संक्रमित महिला की रिपोर्ट नेगेटिव आने की बात कहकर कोविड-19 सेंटर से छुट्टी दे दी गई और फिर बाद में पता चला कि महिला कोरोना वायरस संक्रमित है. इसके बाद महिला को दोबारा उसके घर से लाकर कोविड-19 सेंटर में भर्ती कराया गया. दोनों ही मामलों को लेकर हड़कंप मच गया है.