झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

कोविड-19 अस्पताल में ऑक्सीजन सिलेंडर का नोजल ब्लास्ट, खुद से ऑक्सीजन लगाने में हुआ हादसा

कुणाल सारंगी

डॉक्टरों की लापरवाही के कारण धनबाद के कोविड-19 अस्पताल में भर्ती संक्रमित मरीज की मौत हो गई. ऑक्सीजन सिलेंडर में लगे नोजल के ब्लास्ट होने के कारण यह हादसा हुआ है.

धनबाद: डॉक्टरों की लापरवाही के कारण जिले के कोविड-19 अस्पताल में भर्ती संक्रमित मरीज की मौत हो गई. ऑक्सीजन सिलेंडर में लगे नोजल के ब्लास्ट होने के कारण यह हादसा हुआ है.
कोविड-19 अस्पताल में कार्यरत स्वास्थ्य कर्मियों की माने तो मरीज को अचानक सांस लेने में तकलीफ हो रही थी. टेक्नीशियन नहीं होने के कारण वह खुद ही ऑक्सीजन सिलेंडर से ऑक्सीजन लगाने की कोशिश कर रहा था. इस दौरान नोजल ब्लास्ट कर गया, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई. घटना के बाद से अस्पताल परिसर में अफरा-तफरी मच गई. इस घटना के शिकार हुए मरीज का नाम श्याम साव बताया जा रहा है. वह धनबाद के झरिया का रहने वाला था.
टेक्नीशियन नहीं होने के कारण वह खुद ही ऑक्सीजन सिलेंडर से ऑक्सीजन लगाने की कोशिश कर रहा था. इस दौरान नोजल ब्लास्ट कर गया, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई. घटना के बाद से अस्पताल परिसर में अफरा-तफरी मच गई. इस घटना के शिकार हुए मरीज का नाम श्याम साव बताया जा रहा है. वह धनबाद के झरिया का रहने वाला था.
स्वास्थ्य कर्मियों ने कहा कि अस्पताल में टेक्निशियन तैनात है, लेकिन वह ड्यूटी से गायब रहता है, साथ ही नर्स और डॉक्टर भी वार्ड में कम आते-जाते हैं. स्वास्थ्य कर्मियों ने इस घटना के लिए अस्पताल प्रबंधन को जिम्मेदार ठहराया है. अस्पताल प्रबंधन की ओर से मामले की सूचना उनके परिजनों को दे दी गई है. घटना के बाद कांग्रेस जिला अध्यक्ष बृजेंद्र सिंह, दोषी डॉक्टरों और स्टाफ के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग है. जिम्मेदार डॉक्टर इस संबंध में कुछ भी कहने से कतरा रहे हैं.