झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

जुगसलाई नगर परिषद- स्मार्ट कचरा प्रबंधन हेतु जन जागरूकता कार्यक्रम

जुगसलाई नगर परिषद- स्मार्ट कचरा प्रबंधन हेतु जन जागरूकता कार्यक्रम*

नगर परिषद की एक टीम द्वाराआज गरीब नवाज कॉलोनी, हबीब नगर एवं काली स्थान रोड में नागरिकों के बीच स्वच्छता आदतों को दिनचर्या में अपनाने और स्मार्ट कचरा प्रबंधन हेतु जन जागरूकता कार्यक्रम किया गया । लोगों को बेहतर कचरा प्रबंधन के लिए जुगसलाई नगर परिषद द्वारा संचालित घर-घर से अवशिष्ट संग्रहण कार्यक्रम से जुड़ने की अपील की गयी । नगर प्रबंधक  राजेन्द्र कुमार ने लोगों को जागरूक करते हुए कहा कि प्रायः देखा जाता है कि लोग घर और दुकान की सफाई कर के कचरा नाली में डाल देते हैं, या किसी भी खुले स्थान मे फेंक देते हैं  जिससे नाली जाम की समस्या उत्पन्न होती है। साथ ही कचरा इधर उधर फेंकने से शहर की छवि धूमिल होती है और कचरा को जलाने से वायु प्रदूषण की समस्या होती है जो कि पर्यावरण के लिए बहुत ही हानिकारक है। कार्यक्रम के माध्यम से लोगों को घर में गीला और सूखा कचरा को अलग अलग कर घर-घर से अवशिष्ठ संग्रहण वाहन में देने, दुकान के सामने डस्टबिन रखने, कचरा नहीं जलाने, गीले कचरे से होम कंपोस्टिंग करने और पर्यावरण संरक्षण के लिए वृक्षारोपण करने हेतु प्रेरित किया गया। इस दौरान नगर परिषद की टीम द्वारा सफाई कराये जा रहे छोटे बड़े नालियों का निरीक्षण भी किया गया। इस मौके पर नगर प्रबन्धक  राजेंद्र कुमार, कनीय अभियंता मो जलालूद्दीन अंसारी, मुकेश कुमार मोदी, स्वछता विशेषज्ञ सोनी कुमारी, सभी सफाई पर्यवेक्षक तथा अन्य उपस्थित थे।*=========================*=========================**बहरागोड़ा- एसडीएम घाटशिला ने पश्चिम बंगाल सीमा से सटे अंतर राज्यीय चेक पोस्ट और पंचायतों में संचालित वैक्सीनेशन शिविर का किया निरीक्षण, दिए आवश्यक दिशा-निर्देश*

बहरागोड़ा प्रखंड अंतर्गत पश्चिम बंगाल सीमा से सटे अंतर राज्यीय चेक पोस्ट दारिशोल का एसडीएम घाटशिला  सत्यवीर रजक द्वारा निरीक्षण किया गया। इस मौके पर उन्होंने प्रतिनियुक्त दण्डाधिकारी/कर्मियों से आगन्तुकों के ई-पास और कोविड जांच के सम्बंध में जानकारी प्राप्त की तथा 4 जून से लागू सरकार के नये गाइड लाइन से अवगत कराते हुए दिशा निर्देशों के अक्षरश: अनुपालन कराने के निर्देश दिए। इस दौरान एसडीएम द्वारा आगन्तुक पंजी की भी जांच की गई एवं निर्देश दिया गया कि सभी आंगतुकों का विवरणी यथा नाम, पता, मोबाईल नम्बर पंजी में अवश्य संधारित करें । उन्होंने कहा कि सभी आंगतुकों का कोरोना टेस्ट कराना अनिवार्य है एवं नेगेटिव होने पर ही उन्हें जिला में प्रवेश करने दिया जाय ।

एसडीएम घाटशिला द्वारा हिन्दी मध्य विद्यालय बहरागोड़ा में संचालित 18+ के वैक्सीनेशन कैम्प तथा मौदा एवं छोटापारूलिया पंचायत में चल रहे 45+ आयु वर्ग के वैक्सीनेशन कैम्प का निरीक्षण किया गया । उन्होंने प्रखण्ड के पदाधिकारियों को निर्देशित किया कि गांव-गांव में सघन जागरूकता अभियान चलाते हुए लोगों को वैक्सीनेशन कार्यक्रम से जोड़ें।

इस मौके पर एसडीपीओ  कुलदीप टोप्पो, प्रखंड विकास पदाधिकारी  राजेश कुमार साहु, अंचल अधिकारी  जितराय मुर्मू, थाना प्रभारी कुमार सौरभ मौजूद थे *=========================* *========================*

*विशेष सचिव  ग्रामीण विकास विभाग ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से किया श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन एवं मुख्यमंत्री स्मार्ट ग्राम की समीक्षा बैठक, लंबित योजनाओं के जल्द क्रियान्वयन के दिये निर्देश*

ग्रामीण विकास विभाग, झारखण्ड के विशेष सचिव  रवि रंजन द्वारा वीडियो काॅफ्रेसिंग के माध्यम से घाटशिला प्रखण्ड में क्रियान्वित श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन एवं डुमरिया प्रखण्ड अंतर्गत मुख्यमंत्री स्मार्ट ग्राम योजना की समीक्षा की गई। बैठक में उक्त दोनों योजनाओं की राज्य स्तरीय टीम के अलावा जिले के उप विकास आयुक्त  परमेश्वर भगत, परियोजना पदाधिकारी  शीतल तिर्की, क्षेत्रीय योजना विशेषज्ञ, रूर्बन मिशन  शीतल कुमारी, प्रखण्ड समन्वयक  विकास कुमार सिंह, कला मंदिर संस्था के  अमितोभ धोष एवं  होरो प्रसाद उपस्थित थे।

विशेष सचिव, ग्रामीण विकास विभाग ने कहा कि दोनों योजनांए राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओे में से है, एवं डेवलपमेन्ट प्लान अंतर्गत ली गई समस्त योजनाओं का क्रियान्वयन ससमय किया जाना हैं। बैठक में रूर्बन मिशन अंगर्तत हेरिटेज विलेज, जिम सेन्टर, मार्केटिंग काॅॅम्पलेक्स, कोल्ड स्टोरेज, फलोरिक्लचर जैसे महत्वपूर्ण योजनाओं के क्रियान्वयन के अधतन स्थिति की समीक्षा की गई। विशेष सचिव ने योजनाओं में कार्य प्रगति पर संतोष व्यक्त करते हुए लंबित योजनाओं को जल्द से जल्द क्रियान्वयन कराने का निर्देश उप विकास आयुक्त, पूर्वी सिंहभूम को दिए। साथ ही कोल्ड स्टोरेज योजना और हेरिटेज विलेज के कार्य समय सीमा प्रतिवेदन राज्य कार्यालय को उपलब्ध कराने का भी निर्देश दिया गया।

विशेष सचिव द्वारा मुख्यमंत्री स्मार्ट ग्राम योजना अंतगर्त काॅमन फैसिलिटी सेंटर, सोलर पैनल, मेडिकल शाॅप, विलेज लाइब्रेरी, सैनिटरी नैपकिन यूनिट, स्मार्ट हेल्थ सेंटर, ट्रेनिग प्रोग्राम, माईक्रो इकोनिक जोन जैसे महत्वपूर्ण योजनाओ के अधतन स्थिति की समीक्षा की गई। विशेष सचिव द्वारा संवेदक कला मंदिर के प्रतिनिधि को निर्देश दिया गया की जिला ग्रामीण विकास अभिकरण, पूर्वी सिंहभूम से परस्पर समन्वय स्थापित करते हुए लंबित योजनाओं को जल्द से जल्द क्रियान्वयन कराना सुनिश्चित करेंगे।*=========================*==========================*

*मुसाबनी- 15 पंचायतों में ग्राम सभा का आयोजन कर 45+ के टीकाकरण को लेकर ग्रामीणों को किया गया जागरूक*

कोरोना महामारी के मद्देनजर प्रखंड विकास पदाधिकारी मुसाबनी  सीमा कुमारी के निर्देश पर आज मुसाबनी प्रखंड के 15 पंचायतों के 23 गांव में 45+ आयु वर्ग के टीकाकरण में प्रगति को लेकर ग्राम सभा का आयोजन किया गया। सभी पंचायतों में ग्राम प्रधान की अध्यक्षता में सम्पन्न ग्राम सभा में ग्रामीणों को जिला उपायुक्त के सन्देश से अवगत कराया गया एवं बताया गया कि टीका लेना पूरी तरह से सुरक्षित है, किसी तरह के भ्रम में नहीं आकर टीका अवश्य लें। ग्राम सभा में उपस्थित ग्रामीणों द्वारा टीका लेने की ईच्छा जाहिर की गई तथा अपने आसपास के अन्य लोगों को भी प्रेरित करने की बात कही। बैठक में ग्राम प्रधान द्वारा बताया गया कि कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर आंगनबाड़ी सेविका, सहिया एवं स्वयं सहायता समूह की महिलाएं गांव-गांव में सर्वे कर रही हैं, उनका भी सहयोग करें एवं सही सही जानकारी दें। ग्रामीणों को समूह में रहने पर मास्क का प्रयोग करने, सामाजिक दूरी का अनुपालन करने तथा हाथों को साबुन/ हैंडवाश/ सैनीटाईजर से धोने को लेकर जागरूक किया गया। साथ ही कोरोना के लक्षण यथा- खांसी, सर्दी, बुखार, बदन दर्द सिरदर्द एवं थकान, दस्त, पेट में ऐठन, स्वाद या गंध नहीं पहचानना, सांस लेने में तकलीफ होने पर अविलम्ब कोरोना जाँच करवाने की बात कही गई। सभा में ग्राम प्रधान, पंचायत कार्यकारी प्रतिनिधि, सेविका, सहिया आदि उपस्थित  थे *=========================*