झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

जमशेदपुर ब्लड बैंक में प्लाज्मा डोनेशन की प्रक्रिया शुरू, टाटा स्टील के दो कर्मचारी ने किया डोनेट

कुणाल सारंगी

जमशेदपुर ब्लड बैंक में कॉन्वलेसेंट प्लाज्मा डोनेशन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. इस क्रम में टाटा स्टील के दो कर्मचारी मनेश्वर नायक और जयप्रकाश ने अपना प्लाज्मा दान किया है. इस नेक काम के लिए रक्त दाताओं के प्रति ब्लड बैंक के अध्यक्ष रुचि नरेंद्रन ने आभार प्रकट किया है.

जमशेदपुर: जमशेदपुर ब्लड बैंक में टाटा मुख्य अस्पताल के साथ सक्रिय समन्वय में कॉन्वलेसेंट प्लाज्मा डोनेशन की प्रक्रिया शुरू की गई. टाटा स्टील के दो कर्मचारी मनेश्वर नायक और जयप्रकाश ने अपना प्लाज्मा का दान किया है. जमशेदपुर ब्लड बैंक के अध्यक्ष रुचि नरेंद्रन ने इस नेक काम के लिए आगे आने वाले रक्त दाताओं के प्रति आभार व्यक्त किया है
इस मौके पर सेवानिवृत्त एयर चीफ मार्शल डॉ राजन चौधरी, सेवानिवृत्त एयर वाइस मार्शल डॉक्टर सुधीर रॉय, जेनरल मैनेजर टीएमएच, बेली बोधनवाला, नलिनी राममूर्ति, रविण दुग्गल, रेड क्रॉस के मानद महासचिव विजय कुमार सिंह, भीबीडीए और टीम संघर्ष के सदस्य और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे.
बता दें कि कॉन्वलेसेंट प्लाज्मा कोरोना से स्वस्थ हुआ व्यक्ति जिसने पूर्ण स्वस्थ होने के बाद 28 दिन पूरा कर लिया हो वह प्लाज्मा दान कर सकता है. उम्र 18 से 60 वर्ष और जिन्हें कोई अन्य बीमारी नहीं हो और किसी तरह की दवा का सेवन ना करता हो वह प्लाज्मा दान कर सकता है.
एक व्यक्ति महीने में दो बार और साल में 24 बार प्लाज्मा दान कर सकता है. 500 ml का दान पूर्णतया सुरक्षित है. ऐसे प्लाज्मा को कोविड ग्रसित व्यक्ति के इलाज के लिए परीक्षण के रूप में किया जाता है. जिसका परिणाम विश्व भर में काफी उत्साहवर्धक है. वैसे सभी व्यक्ति जो कोविड से पूर्णतया ठीक हो गए हैं और जिनका 28 दिन बीत चुका हो, उन सभी से अपील की जाती है कि वे अपने प्लाज्मा का दान कर एक बहुमूल्य जान को बचाएं