झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स ने प्रधान सचिव को लिखा पत्र, ट्रांसपोर्ट नगर का काम शुरू करने की मांग

फेडरेशन ऑफ झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज ने रांची में राज्य सरकार की ओर से प्रस्तावित ट्रांसपोर्ट नगर के निर्माण का कार्य जल्द शुरू करने की मांग को लेकर मंगलवार को नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव विनय कुमार चौबे को पत्र लिखा है. इसके साथ ही धनबाद में भी ट्रांसपोर्ट नगर के विकास की मांग की है.

रांचीः राज्य सरकार की ओर से प्रस्तावित ट्रांसपोर्ट नगर के निर्माण का कार्य जल्द शुरू करने को लेकर मंगलवार को फेडरेशन ऑफ झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज ने नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव विनय कुमार चौबे को पत्र लिखा है. इसमें रांची में ट्रांसपोर्ट नगर के विकास के लिए पहल करने और धनबाद और जमशेदपुर में ट्रांसपोर्ट नगर के विकास की मांग उठाई.
इससे पहले मार्च में भी फेडरेशन ने इस मसले पर विभागीय सचिव के साथ की थी. इसमें चैंबर के आग्रह पर विभागीय सचिव ने सरकार की ओर से सुकूरहुटू में प्रस्तावित ट्रांसपोर्ट नगर निर्माण में सभी मूलभूत सुविधाएं मुहैया कराने के लिए आश्वस्त किया था. चैंबर अध्यक्ष कुणाल अजमानी ने पत्र के माध्यम से प्रधान सचिव से कहा है कि कोविड-19 के कारण प्रस्तावित ट्रांसपोर्ट नगर का निर्माण कार्य अब तक प्रारंभ नहीं हो सका है. अब महामारी की चुनौतियों से कुछ हद तक निपटने के बाद सरकार की अनुमति से प्रदेश में लगभग सभी व्यापारिक और औद्योगिक गतिविधियों आरंभ हो चुका है. ऐसे में ट्रांसपोर्टर्स की समस्याओं के समाधान के लिए सरकार द्वारा वर्षों से लंबित ट्रांसपोर्ट नगर के निर्माण कार्य भी जल्द पूरा कराने की दिशा में पहल की जाए.
उन्होंने प्रस्तावित ट्रांसपोर्ट नगर में मूलभूत संसाधनों की उपलब्धता के लिए भी अपने सुझाव दिए हैं. इसमें 1000 भारी मालवाहक ट्रकों और लघुभार वाहनों के पार्किंग की व्यवस्था,करीब तीन लाख स्क्वॉयर फीट में गोदाम, गैरेज, दो इलेक्ट्रिक वे ब्रिज, वाहन चालकों-खलासी के लिए स्नानागार और विश्रामगृह के लिए भूमि, ट्रांसपोर्ट में कार्यरत श्रमिकों, ग्राहकों के लिए बाइक, कार पार्किंग के लिए मल्टीस्टोरेज पार्किंग की सुविधा, बैंकिंग व्यवस्था, टैम्पो स्टैण्ड, सुरक्षा व्यवस्था के लिए पुलिस चौकी और प्राथमिक स्वास्थ्य उपचार केंद्र के लिए पर्याप्त भूमि, क्रेन, फिटनेस सेंटर, पॉल्याशन जांच केंद्र, एक डिस्पेंसरी समेत अन्य मूलभूत सुविधाओं की मांग की गई है. वहीं शहर में यातायात दबाव को कम करने के उद्देश्य से फेडरेशन ने राजधानी रांची में तीन जोन में ट्रांसपोर्ट नगर के विकास की मांग की है.