झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

हटाए गए एसपी शैलेंद्र वर्णवाल, हथियार प्लांट कर की थी जमीन कारोबारी की मदद

रांची।उत्तम राउत संवाददाता: रांची में हथियार प्लांट कर जमीन कारोबारी की मदद करने वाले एसपी शैलेंद्र वर्णवाल को हटा दिया गया है. बता दें कि राज्य सरकार के गृह, कारा और आपदा प्रबंधन विभाग ने इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी है.


एटीएस में पोस्टिंग के दौरान फर्जी तरीके से हथियार प्लांट कर युवकों की गिरफ्तारी के मामले में एसपी शैलेंद्र वर्णवाल को हटा दिया गया है. मंगलवार को राज्य सरकार के गृह, कारा और आपदा प्रबंधन विभाग ने इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी है. शैलेंद्र वर्णवाल की जगह अब बेरमो एसडीपीओ रहे आईपीएस अधिकारी अंजनी अंजन को एटीएस का एसपी बनाया गया है. उन्हें राज्य आपदा लोचन बल के कमांडेंट का अतिरिक्त प्रभार भी दिया गया है.
वहीं, राज्य सरकार ने जैप छह कमांडेंट निधि द्विवेदी के अवकाश पर रहने तक जमशेदपुर एसएसपी डॉ एम तमिलवानन को जैप छह के कमांडेंट का प्रभार दिया है. गिरिडीह एसपी अमित रेणु को आईआरबी 9 का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है. वहीं, बीएसएफ से प्रतिनियुक्ति पर आए आशुतोष कुमार सिंह को जैप 5 देवघर का कमांडेंट बनाया गया है.
रांची के सदर इलाके में जमीन कारोबारी दिलावर खान ने साजिश रच कर दो युवकों को हथियार के साथ एटीएस से गिरफ्तार करवाया था. इस मामले में एटीएस एसपी शैलेंद्र वर्णवाल और इंस्पेक्टर ब्रहमदेव प्रसाद को जांच में दोषी पाया गया. रांची रेंज के डीआईजी अखिलेश झा ने पूरे मामले में पुलिस मुख्यालय को एक रिपोर्ट सौंपी थी. रिपोर्ट के आधार पर पुलिस मुख्यालय ने एटीएस एसपी और इंस्पेक्टर को एटीएस से हटाने और विभागीय कार्रवाई चलाने की अनुशंसा सरकार से की थी.

About Post Author