झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

गोमो आरपीएफ में तैनात हेड कॉन्स्टेबल की कोरोना से मौत, रेलवे पोस्ट में मातम

कुणाल सारंगी

धनबाद जिले में कोरोना वायरस का संक्रमण बड़े स्तर पर होने लगा है. सोमवार को कोरोना संक्रमित एक आरपीएफ जवान की मौत हो गई. तीन दिन पहले ही उस जवान का कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आया था. वो धनबाद के कोविड-19 अस्पताल में
इलाजरत था.

धनबाद: जिले के धनबाद रेल मंडल अंतर्गत गोमो स्टेशन के आरपीएफ पोस्ट में हेड कॉन्स्टेबल के पद पर कार्यरत 52 वर्षीय पुलिसकर्मी की मौत कोरोना से हो गई. वह धनबाद के कोविड-19 अस्पताल में इलाजरत था.
जानकारी के अनुसार हेड कॉन्स्टेबल की अचानक तबीयत खराब हो गई थी. जिसके बाद उनका 19 जुलाई को स्वाब जांच किया गया था. उन्हें धनबाद के रेलवे अस्पताल में बने आइसोलेशन वार्ड में रखा गया था. इलाज के दौरान आरपीएफ पोस्ट में हेड कॉन्स्टेबल के पद पर कार्यरत 52 वर्षीय की मौत कोरोना से हो गई. वे धनबाद के कोविड-19 अस्पताल में इलाजरत थे. 24 जुलाई की शाम में इनकी कोविड-19 की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद धनबाद के कोविड-19 अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन सोमवार को उनकी मृत्यु की सूचना मिलने पर आरपीएफ पोस्ट में शोक की लहर दौड़ गई.
हेड कॉन्स्टेबल की मौत के बाद आरपीएफ पोस्ट के अधिकारियों और जवानों में मातम पसर गया है. लोगों ने बताया कि वह काफी मिलनसार और हंसमुख व्यक्ति थे. हेड कॉन्स्टेबल बिहार के दरभंगा जिला के रहने वाले थे. लेकिन पिछले तीन साल से गोमो के आरपीएफ पोस्ट में अपना योगदान दे रहे थे. वह बैरेक में ही रहते थे. बता दें कि गोमो के तीन और जवान कोरोना संक्रमित हैं, जिनका इलाज कोविड-19 अस्पताल में चल रहा है. बता दें कि धनबाद में कोरोना लगातार पांव पसार रहा है और कोरोना का संक्रमण हर दफ्तर और संस्था को जकड़ रहा है. संक्रमण के इस प्रसार को रोकने के लिए जिला प्रशासन लगातार काम कर रहा है.