झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

दिनेश त्रिवेदी ने “दमघोंटू” बताकर ममता बनर्जी से अपने अपमान का बदला लिया?

पश्चिम बंगाल चुनाव से ठीक पहले ममता बनर्जी को शुक्रवार को बहुत ही तगड़ा सियासी झटका लगा है। दिल्ली में उनकी पार्टी के प्रमुख चेहरे और पूर्व रेलमंत्री दिनेश त्रिवेदी ने संसद में खड़े होकर राज्यसभा से इस्तीफे का घोषणा कर दिया। लेकिन उन्होंने अपने इस्तीफे की जो वजहें बताई हैं वह चुनावी साल में तृणमूल सुप्रीमो के चेहरे पर जोरदार सियासी तमाचे से कम नहीं है। दरअसल नौ साल पहले रेल मंत्री के तौर पर उनके बजट भाषण के बाद ममता की पार्टी ने उन पर जो राजनीतिक निर्ममता दिखाई थी शायद उसे अच्छी हिंदी बोल लेने वाले पश्चिम बंगाल के यह नेता कभी अपने दिल से निकाल ही नहीं पाए।
पूर्व रेल मंत्री और तृणमूल कांग्रेस के मौजूदा प्रवक्ता दिनेश त्रिवेदी के नौ साल पुराने जख्मों की याद दिलाएं उससे पहले उन्होंने अपने इस्तीफे के जो कारण बताए हैं, उसपर गौर कर लेते हैं। दिनेश त्रिवेदी ने कहा है आज मैं राज्यसभा से इस्तीफा दे रहा हूं। हमारे राज्य में हिंसा हो रही है। हम यहां पर कुछ भी नहीं कह सकते। इसके बाद उनकी जुबान से निकला एक-एक लफ्ज तृणमूल नेत्री को सियासी तौर पर तार-तार कर सकता है। उनके मुताबिक मेरे राज्य में हिंसा को रोकने के लिए कुछ भी नहीं कर पाने के चलते मेरा दम घुंट रहा है। मेरी आत्मा मुझसे कहती है कि अगर मैं यहां बैठकर कुछ भी नहीं कर पा रहा हूं तो मैं जरूर इस्तीफा दे दूं। मैं पश्चिम बंगाल के लोगों के लिए काम करता रहूंगा। उन्होंने स्वामी विवेकानंद के शब्दों को दोहराते हुए कहा मेरी अंतरात्मा वही कह रही है जो स्वामी विवेकानंद कहा करते थे उठो जागो और तब तक मत रुको जब तक लक्ष्य प्राप्त नहीं कर लो

*राहुल गांधी के ”हम दो हमारे दो” के नारे पर इस फिल्‍ममेकर ने कहा अब उम्र हो गई है शादी कर ही लीजिए*

कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्‍यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने अभी तक शादी नहीं की है। राहुल गांधी की पर्सनल लाइफ के बारे में जब भी बात होती है तो उन्‍होंने शादी अभी तक क्यों नहीं की इस पर सवाल उठता रहता है। वहीं अब फिल्‍म मेकर अशोक पंडित ने राहुल गांधी की शादी को लेकर एक ट्वीट करते हुए चुटकी ली है। फिल्‍म मेकर अशोक पंडित ने ट्वीट करते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी से कहा- राहुल जी हम दो और हमारे दो के लिए शादी करनी पड़ती है। अब उम्र हो गई है शादी कर ही लीजिए।*

*मोदी-शाह से बहस कर सकते हैं टीएमसी में नहीं- दिनेश त्रिवेदी*

*टीएमसी नेता दिनेश त्रिवेदी ने अब खुलकर टीएमसी और पार्टी के खिलाफ अपनी भावनाएं जाहिर करनी शुरू कर दी हैं। उन्होंने यहां तक कह दिया है कि नरेंद्र मोदी का दरवाजा उनके लिए हमेशा खुला हुआ है। त्रिवेदी ने इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में टीएमसी की आंतरिक हालात को लेकर कई सारे खुलासे किए हैं और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर पश्चिम बंगाल में हुए हमले की भी कड़ी निंदा की है।*

*टिकरी बॉर्डर पर दिल्ली पुलिसकर्मी के साथ हुई मारपीट*

*टिकरी बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस के एक जवान के साथ कुछ लोगों द्वारा मारपीट किये जाने की खबर है। दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि टिकरी बॉर्डर पर शुक्रवार को पीड़ित पुलिसकर्मी लापता किसानों के पोस्टर चिपका रहा था, उसी दौरान कुछ लोगों ने उस पर हमला कर दिया। इस घटना में पुलिस कर्मी के सिर और शरीर के अन्य हिस्सों में चोंटे आई हैं*

*किसी भी जगह विरोध करने का अधिकार नहीं दे सकते- सुप्रीम कोर्ट*

*जस्टिस एसके कौल, अनिरुद्ध बोस और कृष्ण मुरारी की तीन जजों की बेंच ने रिव्यू पिटीशन खारिज करते हुए कहा कि विरोध कभी भी और किसी भी जगह नहीं किया जा सकता। कुछ सहज विरोध हो सकते हैं लेकिन लंबे समय तक असंतोष या विरोध के मामले में, दूसरों के अधिकारों को प्रभावित करने वाले सार्वजनिक स्थान पर लगातार कब्जा नहीं किया जा सकता

*पाकिस्तान के निशाने पर एनएसए अजीत डोभाल, आतंकी का खुलासा*

*हिदायतुल्लाह मल्लिक ने शनिवार को पूछताछ में बड़ा खुलासा किया है। जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े आतंकी ने बताया कि पाकिस्तान कई महीनों से भारतीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल पर हमले की साजिश रच रहा है। बता दें कि पकड़े गए आतंकी के पास से एनएसए अजीत डोभाल की रेकी का एक वीडियो बरामद किया गया है, जिसके बाद से एनएसए कार्यालय और अजीत डोभाल की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।*