झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

डीडीसी ने योजनाओं का प्रगति का लिया लेखा-जोखा, निर्माण योजनाओं में तेजी लाने के निर्देश

पश्चिमी सिंहभूम जिले के उप विकास आयुक्त संदीप बख्शी ने समाहरणालय के सभागार में प्रखंड विकास पदाधिकारियों की बैठक हुई. इसमें डीडीसी ने मनरेगा से जुड़ी प्रमुख योजनाओं की समीक्षा की और निर्माण गतिविधियों में तेजी लाने के निर्देश दिए ताकि मजदूरों को रोजगार दिलाया जा सके.

चाईबासा: पश्चिमी सिंहभूम जिला उपायुक्त अरवा राजकमल के निर्देशानुसार समाहरणालय स्थित सभागार में जिले के उप विकास आयुक्त संदीप बख्शी की अध्यक्षता में जिले के प्रखंड विकास पदाधिकारियों की बैठक हुई. इसमें बिरसा हरित ग्राम योजना, वीर शहीद ‘पोटो हो’ खेल विकास योजना और निलाम्बर-पिताम्बर जल समृद्धि योजना की समीक्षा की गई. इसके अलावा प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत आवास निर्माण की प्रगति की भी समीक्षा की गई. इस निर्माण की प्रगति की भी समीक्षा की गई. इस दौरान डीडीसी ने मजदूरों को रोजगार दिलाने के लिए निर्माण योजनाओं में तेजी लाने के निर्देश दिए. बैठक में उप विकास आयुक्त संदीप बख्शी ने सभी योजनाओं को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए. इस दौरान उप विकास आयुक्त ने मनरेगा अंतर्गत संचालित योजनाओं के तहत प्रमुख खेल मैदान, नाला उन्नयन, रेन वाटर हार्वेस्टिंग प्रणाली के निर्माण के साथ वित्तीय वर्ष 2017-18 एवं वर्तमान वित्तीय वर्ष 2020-21 से पूर्व के सभी लंबित भुगतान, लंबित योजनाओं को पूरा करने के निर्देश दिए. इसके अलावा वर्तमान में अधिक से अधिक योजनाओं, पात्रों का चयन कर स्वीकृति प्रदान करने के निर्देश दिए ताकि क्षेत्र में मजदूरों को ज्यादा से ज्यादा रोजगार उपलब्ध कराया जा सके.
डीडीसी ने बिरसा हरित ग्राम योजना के तहत शत-प्रतिशत निर्धारित लक्ष्य के अनुसार फलदार पौधे लगाने के निर्धारित लक्ष्य को दो दिनों के अंदर प्राप्त करने, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत प्रथम सत्र (2016-19) के शेष लंबित आवासों को पूर्ण कराने का निर्देश दिए.
डीडीसी ने आवास निर्माण की स्थिति का भौतिक सत्यापन कराने और निर्माण के अनुपात में प्रथम किस्त, द्वितीय किस्त और तृतीय किस्त की राशि भुगतान करने के लिए सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निर्देश दिए. बैठक में जिला भू अर्जन पदाधिकारी -सह- डीआरडीए निदेशक एजाज अनवर भी उपस्थित थे .