झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

चाईबासा में अनुमंडल पदाधिकारी ने आवास कर्मी और पंचायत सचिवों के साथ की बैठकलगाई फटकार

कुणाल सारंगी

चाईबासा में जगन्नाथपुर अनुमंडल पदाधिकारी संमृता कुमारी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री आवास कर्मी और सभी पंचायत सेवकों के साथ एक आवश्यक समीक्षा बैठक आयोजित की. इस दौरान उन्होंने आवास

कर्मियों से योजना से संबंधित पूछताछ के दौरान सही डाटा उपलब्ध नहीं करवाने पर जमकर फटकार लगाई.

चाईबासा: जिले में जगन्नाथपुर अनुमंडल पदाधिकारी संमृता कुमारी ने शुक्रवार को मझगांव प्रखंड कार्यालय सभागार में प्रधानमंत्री आवास कर्मी और सभी पंचायत सेवकों के साथ एक आवश्यक समीक्षा बैठक आयोजित की. इसमें उन्होंने कहा कि मनरेगा कर्मी हड़ताल पर हैं, लेकिन किसी भी हाल में मनरेगा कार्य बाधित न हो, इसके लिए सभी पंचायत सचिव और मुखिया अपनी जिम्मेदारी लें. सभी पंचायत के प्रत्येक गांव में मनरेगा योजना आरंभ कर स्थानीय मनरेगा मजदूरों को रोजगार उपलब्ध करवाएं, ताकि कोरोना वायरस महामारी के दौर में क्षेत्र के लोग पलायन नहीं करें. उन्हें अपने गांव में ही रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए गांव स्तर पर कच्चा नाली, मेड़बंदी सोकपिट, का कार्य आरंभ करवाकर मजदूरों को मजदूरी भुगतान करवाएं.
15 अगस्त तक स्वच्छ भारत अभियान के तहत प्रखंड के सभी अधूरे शौचालयों का जियो टैग करवा कर पूर्ण करें और प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मझगांव प्रखंड काफी पिछड़ा हुआ है. सोमवार तक सभी रजिस्ट्रेशन कार्य पूर्ण करवाएं और यथाशीघ्र लंबित आवासों को पूर्ण करवाने का कार्य करवाएं. अन्यथा समय सीमा पर कार्य पूर्ण नहीं होने पर संबंधित कर्मियों पर कार्रवाई की जाएगी. वहीं, अनुमंडल पदाधिकारी ने समीक्षा के दौरान बारी-बारी से पंचायत कर्मी और आवास कर्मियों से योजना से संबंधित पूछताछ के दौरान सही डाटा उपलब्ध नहीं करवाने पर जमकर फटकार लगाई और उन्होंने समय सीमा पर कार्य पूर्ण करने की बात कही. इस मौके पर प्रखंड विकास पदाधिकारी वीरेंद्र किंडो कृषि पदाधिकारी सिरप बॉसके, कनिय अभियंता झुरिया हेम्ब्रम, सुधीर महतो सुशील चौरसिया, अकबर अंसारी, शिवनाथ कुम्हार, बिपिन बिहारी, आदि उपस्थित थे.