झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

भीड़ वाले समारोह में शामिल होने पर टाटा स्टील के कर्मचारियों को क्वारंटाइन होना होगा, कंपनी ने गाइडलाइन जारी की

Ambuj Kumar Kunal Sarangi width Anshar Khan ADJ Kamlesh Jitendra Rais Rozvi Rishi Mishra Rina Gupta

जमशेदपुर में कोरोना का कहर लगातार जारी है. इसे देखते हुए सरकार के साथ अब कई कंपनियों ने अपने कर्मचारियों पर सख्ती शुरू कर दी है. इस कड़ी में टाटा स्टील ने भी
गाइडलाइन जारी कर कर्मचारियों पर सख्ती शुरू कर दी है. कंपनी ने गाइडलाइन जारी कर कहा है कि कर्मचारी अगर किसी भीड़ भाड़ वाले समारोह में शामिल होते हैं तो उन्हें कोविड जांच कराने और 14 दिन के क्वॉरेंटाइन के बाद ही ड्यूटी ज्वाइन करने की इजाजत दी जाएगी.

जमशेदपुर: टाटा स्टील कर्मियों को शादी, बर्थडे पार्टी, समाराेह के साथ किसी के अंतिम संस्कार और शोक सभा में शामिल होना महंगा पड़ सकता है. अगर कर्मचारी ऐसे भीड़ भाड़ वाले कार्यक्रम में शामिल होते हैं तो उन्हें कोविड जांच कराने और 14 दिन के क्वॉरेंटाइन के बाद ही ड्यूटी ज्वाइन करने की इजाजत दी जाएगी. यही नहीं ऐसी स्थिति में काेविड जांच पर लगने वाला 2400 रुपये शुल्क, 300 रुपये डॉक्टर शुल्क भी अपने जेब से ही चुकाना पड़ सकता है.
कंपनी ने गाइडलाइन जारी कर कहा है कि टाटा स्टील के कर्मचारी अगर किसी भीड़ भाड़ वाले कार्यक्रम में शामिल होंगे तो उन्हें 14 दिन के लिए इंस्टिट्यूशन क्वॉरेंटाइन में रहना होगा और प्रतिदिन के अनुसार 500 रुपये के हिसाब से कंपनी शुल्क भी कर्मचारियों से ही वसूलेगी. वहीं क्वॉरेंटाइन अवधि की छुट्टी भी लीव से कटेगी. हालांकि कर्मचारी के परिवार में किसी के साथ कोई अनहोनी या घटना होती है तो वैसी हालत में छूट दी गई है.
कोरोना को लेकर लागू किए गए नियम और भी कड़ाई से लागू करने के उद्देश्य से यह नियम लाया गया है. कंपनी प्रबंधन ने देखा था कि पूर्व में लागू नियमों के प्रति कर्मचारी लापरवाही बरत रहे हैं. इसकी समीक्षा करने के बाद प्रबंधन ने नियम में बदलाव करते हुए उसमें सख्ती बरती है

About Post Author