झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

भाजमो जमशेदपुर महानगर के जिला पदाधिकारियों एवं मंडल अध्यक्षों की बैठक जिला कार्यालय में संपन्न हुई. विद्युत जीएम के द्वारा नई विद्युत मरम्मत कार्य संस्कृति के आरम्भ होने के आश्वासन से संतुष्ट होकर कल का जीएम विद्युत कार्यालय में तालाबंदी का कार्यक्रम स्थगित करने का सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया

कुणाल सारंगी

भाजमो जमशेदपुर महानगर के जिला पदाधिकारियों एवं मंडल अध्यक्षों की बैठक जिला कार्यालय में संपन्न हुई. विद्युत जीएम के द्वारा नई विद्युत मरम्मत कार्य संस्कृति के आरम्भ होने के आश्वासन से संतुष्ट होकर कल का जीएम विद्युत कार्यालय में तालाबंदी का कार्यक्रम स्थगित करने का सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया.

जमशेदपुर: आज भारतीय जनतंत्र मोर्चा द्वारा जमशेदपुर में विद्युत आपूर्ति की लचर स्थिति के विरोध में नौ सितंबर को आहुत विद्युत जीएम कार्यालय की तालाबंदी करने के आहवान के संदर्भ में एक बैठक जीएम विद्युत के कार्यालय में हुई जिसमें निम्नांकित व्यक्ति उपस्थित हुएः- सरयू राय विधायक पूर्वी जमशेदपुर, सुबोध श्रीवास्तव ज़िला अध्यक्ष भारतीय जनतंत्र मोर्चा जमशेदपुर महानगर ,राम नारायण शर्मा केन्द्रीय उपाध्यक्ष भाजमो,जीएम विद्युत कोल्हान प्रक्षेत्र अधीक्षण अभियंता विद्युत जमशेदपुर और एसडीओ विद्युत जमशेदपुर
आरम्भ में विधायक सरयू राय ने जमशेदपुर के ग़ैर कंपनी इलाक़ों में विद्युत आपूर्ति की बदहाली के कारण जनता को हो रही परेशानी और इस कारण व्याप्त आक्रोश के बारे में अपना विचार विस्तार से रखा और कहा कि इसके विरोध में भड़क रहे जनाक्रोश का प्रदर्शन करने के लिये हमने नौ सितंबर को जीएम कार्यालय में तालाबंदी करने का कार्यक्रम रखा है. या तो बिजली आपूर्ति में सुधार हो या जीएम कार्यालय में ताला लटके.
इस पर जीएम विद्युत ने कहा कि जब से तालाबंदी की घोषणा हुई है तबसे पूरा बिजली महकमा कमियों को दूर करने के लिए सक्रिय है. हमने प्रदेश मुख्यालय को अपनी दिक़्क़तों से अवगत कराया है कि जमशेदपुर पूर्वी क्षेत्रों गोलमुरी ग्रिड को 70 मेगावाट बिजली की ज़रूरत है. 30-35 मेगावाट बिजली मिल रही है. मुख्यालय ने आश्वस्त किया है कि यदि किसी घटना के कारण कोई विशेष परिस्थिति नहीं पैदा हुई तो हम फ़ुल लोड बिजली देंगे और हर स्थिति में 60 मेगावाट तो ज़रूर देंगे. अभी पिछले तीन दिन से फ़ुल लोड बिजली मिल रही है.
विधायक सरयू राय ने उन्हें बताया कि
फ़ुल लोड बिजली मिलने पर भी कई इलाक़ों में तीन दिनों में बिजली कटी है तो जीएम ने बताया कि ऐसा लोकल फ़ॉल्ट के कारण हो जाता है. इस पर विधायक सरयू राय ने जीएम को अपने विधानसभा क्षेत्र में पावर सब स्टेशन और फ़ीडर प्रबंधन की कमियों के बारे में बताया और कहा कि क्षेत्र भ्रमण के दौरान केबुल, पोल, ट्रांसफ़ॉर्मर, एबी स्वीच, जम्पर, इनसुलेटर, एचटी फ्यूज़ की दुर्दशा का पता चलता है जिसके कारण ट्रांसफ़ॉर्मर के इलाक़े में बिजली कट जाती है और लोगों के फ़ोन करने पर बिजली कर्मी फ़ोन नहीं उठाते हैं और लोगों को परेशानी झेलनी पड़ती है. उन्होंने कहा कि लोकल फ़ॉल्ट नहीं हो, थोड़ी आँधी पानी में बिजली नहीं कटती रहे इसका क्या उपाय विभाग करेगा.
इस पर गंभीर वार्ता हुई. जो निम्नवत हैः-विद्युत जीएम ने अधीनस्थ अधिकारियों को सख़्त निर्देश दिया. एक फ़ीडर मैनेजमेंट प्लान तैयार करने तथा फ़ीडरों की साप्ताहिक मरम्मत करते रहने का निर्णय लिया गया ताकि लोकल फ़ॉल्ट से बचा जा सके. एक स्पेशल फ़ोन नम्बर हर क्षेत्र के लिए जारी किया जाएगा जिस पर लोग बिजली कटने पर या अन्य कोई कमी होने पर सूचना दे सकें. सूचना पर कारवाई होगी.
फ़ीडर क्षेत्र के ट्रांसफार्मरों को नियमित रूप से मरम्मत करने का कार्य होगा चाहे वे ख़राब हों या न हों. एक दो महीना तक हर क्षेत्र में सप्ताह में एक दिन तीन चार घंटे का शट डाउन लेकर (बिजली बंद कर) व्यापक मरम्मत किया जाएगा. कमजोर पड़ रहे उपकरणों को बदला जाएगा. दो एक महीना के बाद शटडाउन नहीं लेना पड़ेगा, सिस्टम हमेशा दुरुस्त रहेगा. शट डाउन की सूचना अख़बारों में प्रकाशित की जाएगी. सभी चीनी मिट्टी इंसुलेटरों को पोली-प्रोपेलीन इंसुलेटर से बदला जाएगा.स्थान स्थान पर सेपरेटर लगाकर लाईन दुरुस्त किया जाएगा
लाईन क्षेत्र में पड़ने वाले पेड़ों की टहनियों की नियमित छँटाई की जाएगी.अभी तक लाईन में ख़राबी आ जाने, बिजली कटने, जम्पर, बुश आदि कटने, इंसुलेटर फटने,फ्युज जाने के बाद मरम्मत का काम शुरू होता था. अबसे जमशेदपुर में फ़ीडर मैनेजमेंट की बिजली विभाग की नई कार्य संस्कृति शुरू होगी जिसे निवारक (प्रिवेंटिव) मरम्मत कहा जाएगा. यानी ख़राबी होने के बाद नहीं बल्कि ख़राबी होने के पहले ही कमी दिखते ही मरम्मत का काम होगा.
जीएम विद्युत से वार्ता के क्रम में पता चला कि विगत सात वर्षों में बिजली विभाग की जैसी कार्य संस्कृति रही है उसमें सरकार ने अरबों रूपया बिजली विभाग पर खर्च किया 5000 करोड़ का क़र्ज़ बिजली विभाग का काम ठीक करने के लिए लिया, आईएलएफएस और वोल्टास जैसे बड़े ठेकेदार बहाल किया. कारण जो भी हो इन ठेकेदारों ने आधा-अधूरा काम किया. काम बीच में छोड़ चलता बने. इस कारण से फ़ीडर और ट्रांसफ़ॉर्मर इलाक़े में काफ़ी कमी रह गई. आज की बैठक में तय हुआ कि बड़े ठेकेदार जो काम बीच में छोड़कर भाग गये हैं वे सभी काम विभागीय होंगे. गैप को भरा जाएगा.
जीएम विद्युत से संतोषजनक वार्ता और नई कार्य संस्कृति, निवारक मरम्मत की कार्य संस्कृति, शुरू करने के ठोस आश्वासन के बाद हमने जीएम को बताया कि शाम को ज़िला पदाधिकारियों, मंडल अध्यक्षों की बैठक में उपर्युक्त पर विचार कर कल के तालाबंदी कार्यक्रम होगा या स्थगित करने का निर्णय होगा.
भाजमो जमशेदपुर महानगर जिला पदाधिकारियों एवं मंडल अध्यक्षों की बैठक जिलाध्यक्ष सुबोध श्रीवास्तव की अध्यक्षता में जिला कार्यालय में संपन्न हुई. बैठक में निर्णय लिया गया कि नई विद्युत मरम्मत कार्य संस्कृति के आरम्भ होने के आश्वासन से संतुष्ट होकर कल का जीएम विद्युत कार्यालय में तालाबंदी का कार्यक्रम स्थगित किया जाता है और निर्णय लिया जाता है कि जमशेदपुर पूर्वी विधान सभा क्षेत्रों अंतर्गत गोलमुरी ग्रिड एवं विभिन्न पावर सब स्टेशनों के अधीन आने वाले फ़ीडरों और ट्रांसफ़ॉर्मरों के क्षेत्र में जनता की समिति गठित की जाएगी जो नई मरम्मत कार्य संस्कृति के दावा पर नज़र रखेगी.