झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

बंद रहीं कृषि पंडरा बाजार समिति की दुकानें, चैंबर ऑफ कॉमर्स के आह्वान पर दो दिन और रहेगी बंदी

कुणाल सारंगी

कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए चैंबर ऑफ कॉमर्स ने सप्ताह में 3 दिनों के लिए बाजार बंद करने का आह्वान किया है. इसी के मद्देनजर रांची स्थित कृषि पंडरा बाजार समिति की दुकानें शुक्रवार को पूरी तरह से बंद रहीं. अभी दो दिन और इनके बंद रहने का अनुमान है

रांचीः कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है और उसे रोकने के लिए सरकार ने नई गाइडलाइन जारी की है. गुरुवार को कैबिनेट बैठक में मास्क नहीं लगाने पर सजा के साथ-साथ जुर्माने का प्रावधान किया गया. वहीं, चैंबर ऑफ कॉमर्स ने भी महामारी की चेन को तोड़ने के उद्देश्य से 3 दिनों के लिए बाजार बंद करने का आह्वान किया है, जिसके बाद राजधानी स्थित कृषि पंडरा बाजार समिति शुक्रवार को पूरी तरह से बंद रही बंद दुकानों पर लटका ताला राजधानी रांची के पंडरा बाजार में राज्य भर से आना जाना लगा रहता है. प्रतिदिन यहां पर करोड़ों रुपयों का लेन-देन होता है. चैंबर ऑफ कॉमर्स के फैसले के बाद शुक्रवार को यह बाजार पूरी तरह से बंद नजर आया. दुकानों के शटर में ताला लटका रहा.
चैंबर ऑफ कॉमर्स के आदेश का पालन
पंडरा बाजार राज्य के व्यापार का केंद्र माना जाता है, जहां अक्सर लोगों का आना जाना लगा रहता है. ऐसे में कोरोना महामारी का संक्रमण बढ़ने का सबसे ज्यादा खतरा यहां है और सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन का भी खतरा रहता है. अब चैंबर ऑफ कॉमर्स के आह्वान पर आज पहला दिन दुकानदारों ने दुकानें बंद रखीं. इस दौरान पूरी तरह से पंडरा बाजार समिति की दुकानें बंद नजर आईं और बाजार में सन्नाटा पसरा रहा
चैंबर ऑफ कॉमर्स का फैसला
बता दें कि फेडरेशन ऑफ झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज ने कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप को ध्यान में रखते हुए सप्ताह में 3 दिन दुकान बंद रखने का ऐलान किया था, जिसकी शुरुआत 24 जुलाई शुक्रवार से हुई है. इसके तहत जरूरी सेवाओं को छोड़कर व्यावसायिक प्रतिष्ठान शुक्रवार, शनिवार और रविवार को बंद रहेंगे. इस ऐलान के बाद झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज ने आम जनता और व्यापारियों से सहयोग की अपील की थी.