झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

अवैध कोयला भट्ठा पर पुलिस ने मारा छापा

कुणाल सारंगी

अवैध कोयला कारोबारियों के खिलाफ इन दिनों धनबाद जिला प्रशासन सख्त है. रविवार को गुप्त सूचना के आधार पर निरसा एसडीपीओ विजय कुशवाहा ने मुगमा रेल स्टेशन के समीप मां कल्यानेश्वरी रिफ्रैक्ट्री में छापेमारी कर भारी मात्रा में अवैध कोयला जब्त किया है. जब्त किए गए अवैध कोयले को ईसीएल के सुपुर्द कर दिया गया है.

धनबाद: जिले में अवैध कारोबार पर अंकुश लगाने को लेकर पुलिस की छापेमारी लगातार जारी है. इसी क्रम में रविवार को पुलिस ने मुगमा रेल स्टेशन के समीप मां कल्यानेश्वरी रिफ्रैक्ट्री में छापेमारी कर भारी मात्रा में अवैध कोयला को जब्त किया है. जब्त किए गए अवैध कोयले को ईसीएल के सुपुर्द कर दिया गया है निरसा एसडीपीओ विजय कुशवाहा आए दिन निरसा के विभिन्न क्षेत्रों में चल रहे अवैध कारोबार और अवैध कारोबारियों के खिलाफ अभियान चलाकर छापेमारी कर रहे हैं. बीते दिन एसडीपीओ को एक कोयला भट्ठे में भारी मात्रा में चोरी का अवैध कोयला लेने और उसे खपाने की गुप्त सूचना मिली थी. जिसके बाद एसडीपीओ के नेतृत्व में मुगमा स्टेशन के समीप मां कल्यानेश्वरी रिफ्रैक्ट्री में छापेमारी की गई. जहां से भारी मात्रा में अवैध कोयला जब्त किया गया है. जब्त अवैध कोयले को पुलिस ने ईसीएल के सुपुर्द कर दिया गया है
इलाके में लगातार हो रही छापेमारी से अवैध कोयला कारोबारियों में हड़कंप मच गया है. वहीं, कोयला भट्ठा मालिक का कहना है कि भट्ठा में चोरी का कोयला नहीं है. भट्ठा में जितना भी कोयला मौजूद है उनके पास कोयले का पूरा हिसाब है पूरे कागजात हैं. उन्होंने प्रशासन को पेपर दिखाना चाहा, लेकिन प्रशासन कागजात देखने को तैयार ही नहीं है. जिस कोयला भट्ठा में छापेमारी की गई वहां के भट्ठा मालिक ने बताया कि उन्होंने अपना भट्ठा कंचनडीह के किसी व्यक्ति को लीज में दिया है. इधर पुलिस कोयला जब्त कर प्राथमिकी दर्ज करने की प्रक्रिया में है.