झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

27 सितंबर को कोरोनाकाल में मानवीय संवेदना विषय पर होगा व्याख्यान

जमशेदपुर: गोलमुरी स्थित अब्दुल बारी मेमोरियल (एबीएम) कॉलेज में प्रोफेसर अब्दुल बारी व्याख्यानमाला आयोजित करने का निर्णय लिया गया है। इस व्याख्यानमाला के तहत राष्ट्रीय- अंतरराष्ट्रीय स्तर के ख्याति प्राप्त विद्वान को आमंत्रित कर उनका व्याख्यान करवाया जायेगा। उक्त आशय की जानकारी देते हुए प्राचार्य डॉ मुदिता चंद्रा ने कहा कि यह महाविद्यालय टाटा वर्कर्स यूनियन के 1936 में अध्यक्ष रहे अब्दुल बारी के नाम पर स्थापित है । वे महान स्वतंत्रता सेनानी भी थे। उनके नाम को यादगार बनाने के उद्देश्य इस व्याख्यानमाला की शुरुआत की गई है । साथ ही उन्होंने बताया कि कॉलेज के एनएसएस कार्यक्रम पदाधिकारी और मैथिली विभागाध्यक्ष डॉ. रवीद्र कुमार चौधरी को इस व्याख्यानमाला के संयोजन का दायित्व दिया गया है। ताकि निरंतर इसके तहत कार्यक्रम आयोजित होते रहे ।

प्रो.अब्दुल बारी व्याख्यानमाला के संयोजक डॉ. रवीन्द्र कुमार कुमार चौधरी ने बताया कि इस व्याख्यानमाला के तहत् सर्वप्रथम कोरोनाकाल में मानवीय संवेदना विषय पर ऑनलाइन व्याख्यान देने हेतु हार्वर्ड विश्वविद्यालय के छात्र रहे, दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर राजीव कुमार वर्मा से संपर्क किया गया है। वे इस विषय पर 27 सितंबर को 11.15 बजे ऑनलाइन व्याख्यान देंगे। उन्होंने इस हेतु अपनी स्वीकृति भी दे दी हैं । साथ ही उन्होंने बताया कि इस व्याख्यान में उदघाटन संबोधन कॉलेज की प्राचार्य एवं कोल्हान विश्वविद्यालय मानविकी संकाय की डीन डा. मुदिता चंद्रा करेंगी तथा धन्यवाद ज्ञापन राजनीति विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डॉ. राजेंद्र भारती करेंगे।