झारखण्ड वाणी

सच सोच और समाधान

2021 की मैट्रिक परीक्षा पैटर्न में बड़ा बदलाव, अब सिर्फ 90 अंकों की होगी परीक्षा

2021 की मैट्रिक परीक्षा के पैटर्न में बदलाव किए गए हैं. इसके लिए शिक्षा विभाग की ओर से भी दिशा निर्देश जारी किया गया है. विद्यार्थियों की कक्षा में उपस्थिति और अन्य एक्टिविटी के आधार पर उन्हें आंतरिक मूल्य दिया जाएगा. परीक्षा को लेकर तैयारियां भी शुरु हो चुकी है.
रांची: साल 2021 में होने वाली मैट्रिक परीक्षाओं में बदलाव किए जाएंगे. मार्कशीट में 20 अंकों का आंतरिक मूल्यांकन का प्रावधान रखा गया है. विद्यार्थियों की कक्षा में उपस्थिति और अन्य एक्टिविटी के आधार पर उन्हें आंतरिक मूल्य दिया जाएगा. इस परीक्षा को लेकर तैयारियां शुरू हो चुकी हैं. शिक्षा विभाग की ओर से भी दिशा निर्देश जारी किया गया है. परीक्षा की तारीख की अब तक कोई जानकारी नहीं जारी की गई
इस वर्ष मैट्रिक और इंटरमीडिएट परीक्षा को लेकर सिलेबस में कटौती की गई है. नये सिलेबस के आधार पर परीक्षा आयोजित की जाएगी. मैट्रिक परीक्षा में प्रश्न पत्र में बदलाव किया गया है. स्कूल बंद रहने की वजह से लिखित परीक्षा भी ली जाएगी. इसके साथ ही इस वर्ष मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षा को लेकर तैयारियां व्यापक तरह से की जा रही है. मैट्रिक में लिखित परीक्षा 90 अंक की होगी जबकि 10 अंकों का इंटरनल एसेसमेंट दिया जाएगा. पैटर्न में कुछ बदलाव भी किए गए है. और उसी के आधार पर परीक्षा आयोजित होगी. झारखंड एकेडमिक काउंसिल ने इस बात की जानकारी दी.